लेखपाल (Lekhpal) कैसे बने | योग्यता | सिलेबस | सैलरी | पूरी जानकारी

लेखपाल (Lekhpal) से संबंधित जानकारी

वर्तमान समय में सभी छात्रों के द्वारा अपने उज्जवल भविष्य को साकार करने का लक्ष्य रहता है| प्रतिस्पर्धा के इस युग में प्रत्येक छात्र अपनी लगन तथा योग्यता के अनुसार अपने लक्ष्य को प्राप्त करना चाहता है, भारत देश में सभी राज्यों में भूमि से सम्बंधित कार्य के लिए लेखपाल का पद होता है| लेखपाल का पद राज्य सरकार के अधीन होता है, तथा लेखपाल को पटवारी भी कहा जाता है|

राज्य सरकार के द्वारा लेखपाल के पद पर भर्ती उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड (UPSSSC) के द्वारा कराई जाती है| लेखपाल की नियुक्ति जिला तहसील में की जाती है| लेखपाल को प्लाट,  खेत,  मकानों की नाप जोख तथा खसरा खतौनी आदि कार्यो को करना होता है| वर्तमान समय में बहुत से छात्र  लेखपाल के पद को प्राप्त करना चाहते है| इसलिए उन छात्रों की सहायता के उद्देश्य से यहाँ आपको “लेखपाल (Lekhpal) कैसे बने? योग्यता, सिलेबस, सैलरी” से संबंधित जानकारी उपलब्ध कराई गयी है|

लेखपाल कैसे बने? (How to Become Lekhpal)

राजस्व विभाग के अंतर्गत यह एक महत्वपूर्ण पद होता है अलग-अलग राज्यों में लेखपाल पद के भिन्न- भिन्न नाम है| पटेल, कारनाम अधिकारी, शानबोगरु, पटवारी आदि नामो से बुलाया जाता है| लेखपाल को गांव तथा शहरी वातावरण में भूमि से सम्बंधित कार्य देखने होते है तथा विवादित भूमि के मामलो में स्वयं भूमि स्थान पर जाकर निरिक्षण करके रिपोर्ट देना होता है| तहसील में बनने वाले निवास, आय तथा जाति प्रमाणपत्रो की जाँच करना तथा इस सम्बन्ध में रिपोर्ट प्रस्तुत करना होता है|

लेखपाल पद प्राप्त करने के लिए छात्र को अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड द्वारा जारी किये गए विज्ञापन के अनुसार आवेदन करना होता है| आयोग के द्वारा नियत तिथि पर परीक्षा का आयोजन किया जाता है| जिसमे लिखित परीक्षा के साथ साक्षात्कार भी होता है| इस परीक्षा में अच्छे अंक से उत्तीर्ण होने के बाद मेरिट सूची में नाम आ जाता है| इसके बाद लेखपाल के पद पर नियुक्ति कर दी जाति है| यह पद सी ग्रेड में आता है, लेखपाल के अंतर्गत दो पद आते है- राजस्व लेखपाल तथा चकबंदी लेखपाल

लेखपाल पद के लिए शैक्षिक योग्यता ( Academic Qualification for Lekhpal Post )

लेखपाल बनने के लिए इंटरमीडिएट उत्तीर्ण होना आवश्यक है । उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा लेखपाल पद के लिए कम्‍प्‍यूटर नॉलेज को अनिवार्य करते हुए ट्रिपल सी (कोर्स ऑन कम्‍प्‍यूटर कॉनसेप्‍ट्स) कोर्स का प्रमाणपत्र होना अनिवार्य है|

लेखपाल पद के लिए आयु सीमा (Age Limit for Lekhpal Post)

लेखपाल पद के लिए छात्र की आयु 18 वर्ष से 40 वर्ष के मध्य होनी चाहिए, तथा आरक्षित वर्ग के छात्रों को नियमानुसार आयु में वरीयता प्रदान की जाती है ।

लेखपाल पद के लिए वेतन (Salary for Lekhpal Post)

लेखपाल पद के वेतन के रूप में ग्रेड पर 5200 से 20200 रुपये प्राप्त होते है। इसके अलावा सरकार द्वारा अन्य सरकारी सुविधाएँ भी दी जाती है |

परीक्षा पैटर्न (EXAM PATTERN)

  • लेखपाल पद के लिए चार प्रश्नपत्र होते है, जिसमे सामान्य हिंदी, गणित, सामान्य ज्ञान, गांव ग्राम समाज और विकास से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते है, कुल 100 अंको का प्रश्नपत्र होता है| छात्र द्वारा लिखित परीक्षा तथा साक्षात्कार के आधार पर मेरिट सूची बनाई जाति है| लेखपाल पद के लिए चयन प्रक्रिया की मेरिट सूची लिखित परीक्षा पर आधारित होती है, मेरिट के आधार पर इस पद पर नियुक्तियां होती है| लिखित परीक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद छात्र को प्रमाणपत्र सत्यापन  के लिए बुलाया जाता है| उत्तर प्रदेश में लेखपाल पद के लिए लिखित परीक्षा में मुख्य रूप से सम्मिलित होना होता है, तथा इस परीक्षा की समय अवधि 1 घंटा 30 मिनट (90 मिनट) होती है| साथ ही इस परीक्षा में नकारात्मक अंकन नहीं किया जाता है|
क्रम संख्याविषयअंकप्रश्नों की संख्या
1सामान्य हिंदी2525
2गणित2525
3सामान्य ज्ञान2525
4गांव ग्राम समाज और विकास2525

लेखपाल परीक्षा का पाठ्यक्रम (Exam Syllabus of Lekhpal)

सामान्य हिंदी (General Hindi)

सामान्य हिंदी के अंतर्गत, अलंकार, विलोम, पर्यायवाची, रस, संधियों, तद्भाव समान,  तद्भाव समान, वचन, कारक, काल, लोकोक्तियां, मुहावरे, अनेकार्थी शब्द वाक्य-संशोधन-वचन,  वाक्यांशों के लिए एक शब्द, वर्तनी आदि से सम्बंधित प्रश्न पूछें जाते है |

गणित (Math)

  • गणित के अंतर्गत, पाई चार्ट, हिस्टोग्राम, आवृत्ति बहुभुज, केंद्रीय माप: समानांतर मीन, माध्य,  आवृत्ति, आवृत्ति वितरण, सारणीकरण, संचयी आवृत्ति। तथ्यों का निर्धारण, बार चार्ट, मोड और बहुपद, संख्या प्रणाली, प्रतिशत, लाभ हानि, सांख्यिकी, तथ्यों का वर्गीकरण आदि के बारें में पूछा जाता है|
  • बीजगणित के तहत समकालीन समीकरण, द्विघात समीकरण, एलसीएम और एचसीएफ के बीच संबंध, एलसीएम और एचसीएफ, कारक, क्षेत्र प्रमेय आदि के बारें में पूछा जाता है ।
  • रेखागणित में त्रिभुज, आयत, स्क्वायर, ट्रैपेज़ियम, पेरेमिल्रोग्राम के परिधि और क्षेत्र, और पाइथागोरस प्रमेय परिधि और सर्किल क्षेत्र आदि ।

सामान्य विज्ञान (General Science)

  • सामान्य विज्ञान के अंतर्गत राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व के वर्तमान मामले, भारतीय इतिहास, स्वतंत्रता आंदोलन, भारतीय राजनीति और अर्थशास्त्र, विश्व भूगोल और जनसंख्या, आदि के बारें में पूछा जाता है |
  • भारतीय इतिहास के तहत भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन की प्रकृति और विशेषता के बारे में भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के तहत, राष्ट्रवाद के उदय वित्तीय, सामाजिक, धार्मिक और राजनीतिक दलों के ज्ञान पर मुख्य रूप से फोकस होगा |
  • विश्व भूगोल के अंतर्गत आर्थिक, सामाजिक, सामान्य ज्ञान का भौतिक और पारिस्थितिकी विज्ञान,  जनसांख्यिकीय मुद्दों के विषय में प्रश्न पूछे जायेंगे|

ग्राम समाज एवं विकास (Village Society and development)

ग्राम समाज, विकास, ग्राम विकास, ग्राम विकास भारत, ग्राम विकास कार्यक्रम और प्रबंधन, ग्राम विकास अनुसंधान, ग्राम स्वास्थ्य योजनाओं,  आदि से सम्बंधित प्रश्न पूछे जायेंगे |

लेखपाल के कार्य (Work of Lekhpal)

  • लेखपाल पद पर आसित व्यक्ति को राजस्व विभाग में भूमि से सम्बंधित कार्य करने होते है जैसे भूमि की पैमाइश करना, भूमि का आबंटन करना तथा कब्ज़ा दिलाना आदि|
  • आय, जाति तथा निवास प्रमाण पत्र जारी करना|
  • कृषक दुर्घटना बीमा, विधवा, वृद्धवस्था, विकलांग,  विधव, पेंशन दिलवाने में सहायता करना |
  • सरकार द्वारा निर्देशित करने पर पशु गणना, कृषि गणना तथा अन्य आर्थिक सर्वेक्षण में हिस्सा  लेना होता है |
  • राष्ट्रिय कार्यक्रमों में सहयोग करना होता है|
  • सूखा घोषित किये गए क्षेत्र के नुकसान की गणना करना और डाटा सरकार को देना होता है |
  • राजस्व अभिलेखों को अपडेट रखता होता है |

यहाँ आपको लेखपाल (Lekhpal) कैसे बने? योग्यता, सिलेबस, सैलरी की पूरी जानकारी उपलब्ध कराई गयी है| अब उम्मीद है आपको यह जानकारी पसंद आएगी|