आईआरएस (IRS) अधिकारी कैसे बने | योग्यता | आयु | सैलरी | पूरी जानकारी

आईआरएस (IRS) ऑफिसर से सम्बन्धित जानकारी

आईआरएस (IRS) सिविल सेवा का उच्च एवं सम्माननीय पद होता है, आईएएस, आईपीएस और आईएएस यह पद आईआरएस के पद से उच्च अधिकारी पद है, आईआरएस का फुलफॉर्म इंडियन रेवेन्यू सर्विस (Indian Revenue Service) होता है जिसे हिंदी में भारतीय राजस्व सेवा कहते है| आईआरएस अधिकारी को प्रत्यक्ष कर जैसे धन, आय तथा कॉर्पोरेट एवं अप्रत्यक्ष कर जैसे सेवा कर, केंद्रीय उत्पाद शुल्क, सीमा शुल्क तथा अन्य करो के साथ ही प्रशासन व नीति  निर्माण से सम्बंधित पूरी जानकारी रखनी होती है, आईआरएस अधिकारी केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड तथा केंद्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क बोर्ड  वित्त मंत्रालय राजस्व विभाग के अधीनस्थ  कार्य करते है| आईआरएस  सरकार को इनकम टैक्स माध्यम से राज्य सरकार को प्राप्त होने वाली आय के संग्रह  की देख रेख करना होता है इसलिए आईआरएस अधिकारी को कर प्रशासक या इनकम टैक्स ऑफिसर भी कहते है| आईआरएस  के द्वारा सभी प्रकार के प्रत्यक्ष तथा अप्रत्यक्ष करो को एकत्र करके राज्य सरकार को उपलब्ध कराना होता है, यदि आप आईआरएस (IRS) अधिकारी बनना चाहते है तो आप को इस सम्बन्ध में सम्पूर्ण जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी |

आईआरएस (IRS) अधिकारी के लिए योग्यता

  • आईआरएस अधिकारी बनने के लिए अभ्यर्थी भारतीय नागरिक होना चाहिए|
  • केन्या, युगांडा, तंजानिया,पाकिस्तान, म्यांमार, श्रीलंका, ज़ाम्बिया, मलावी, अफ्रीकी राष्ट्र या वियतनाम से आये हुए व्यक्ति भी आवेदन कर सकते है लेकिन वह भारत के स्थायी रूप से निवासी होने चाहिए|

आईआरएस (IRS) अधिकारी की शैक्षिक योग्यता

आईआरएस अधिकारी बनने के लिए अभ्यर्थी को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविधालय से स्नातक की डिग्री या समकक्ष डिग्री प्राप्त होना अनिवार्य है तथा स्नातक के तृतीय वर्ष के अभ्यर्थी भी इस पद के लिए आवेदन कर सकते है|

आईआरएस (IRS) अधिकारी की आयुसीमा

आईआरएस अधिकारी बनने के लिए अभ्यर्थी की न्यूनतम आयु 21 वर्ष तथा अधिकतम 30 वर्ष होना अनिवार्य है| ओबीसी अभ्यर्थियों के लिए 3 वर्ष तथा एससी/एसटी अभ्यर्थियों  के लिए ऊपरी आयु सीमा  सरकार की ओर से 5 वर्ष की वरीयता प्रदान की गयी है | रक्षा सेवा कर्मियों के लिए ऊपरी आयु सीमा में भी वरीयता प्रदान की गई है |

आईआरएस (IRS) अधिकारी का वेतन

आईआरएस अधिकारी का वेतन ग्रेड पर निर्भर करता है, ग्रेड बढ़ने के साथ वेतन भी बढ़ता रहता है|  सरकार द्वारा इस पद पर चयनित होने वाले अभ्यर्थी का वेतन 90 हजार रूपये प्रतिमाह तक होता है साथ ही भत्ता भी दिया जाता है|

आईआरएस (IRS) अधिकारी परीक्षा के लिए आवेदन

सर्वप्रथम आपको यूपीएससी की सिविल सेवा परीक्षा का आवेदन पत्र मुख्य डाकघर से खरीदना होगा तथा दिए  गए पते पर भेजना होगा|

सचिव,

संघ लोक सेवा आयोग,

धौलपुर हाउस,

नई दिल्ली – 110011

आईआरएस अधिकारी की परीक्षा के लिए आप ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते है इसके लिए आप दी गयी वेब साइट  Upsconline.in पर  निर्देशों का पालन करते हुए ऑनलाइन फॉर्म भर सकते है|

आईआरएस (IRS) अधिकारी का परीक्षा प्रतिरूप

आईआरएस  परीक्षा के 3 मुख्य चरण होते है वे इस प्रकार है

  • प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam)
  • मुख्य परीक्षा (Main Exam)
  • साक्षात्कार (Interview)

प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam)

भारतीय सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षाओ का आयोजन मई या जून के महीने में किया जाता है, सीसैट परीक्षा प्रश्नपत्र का प्रारूप इस प्रकार है:-

क्रम स०विषयअंकसमय
1.सामान्य ज्ञान2002 घंटे
2.समझ और तार्किक तर्क2002 घंटे

मुख्य परीक्षा (Main Exam)

प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को मुख्य परीक्षा में सम्मिलित किया जाता है तथा इस परीक्षा का आयोजन अक्टूबर के महीने में किया जाता है|

क्रम स०विषयअंक
1.1 निबंध प्रकार का भारतीय भाषा योग्यता पेपर300
2.1 अंग्रेजी योग्यता300
3.1 सामान्य निबंध200
4.2 सामान्य अध्ययन पत्र300 (300 अंक प्रति प्रश्न पत्र )
5.4 वैकल्पिक विषयों पर300 ( 300 अंक प्रति प्रश्न पत्र)

साक्षात्कार (Interview)

प्रारंभिक तथा मुख्य परीक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद अभ्यर्थी को साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है जिसके अंतर्गत अभ्यर्थी के  व्यक्तित्व, मानसिक क्षमता तथा शीघ्र निर्णय लेनें की क्षमता का परिक्षण किया जाता है| साक्षात्कार में सफल हुए व्यक्तियों का पद के अनुसार चयन किया जाता है तथा 3 माह का प्रशिक्षण भी दिया जाता है, प्रतिवर्ष लगभग  500 आईआरएस अधिकारियों का चयन किया जाता है|

इस पृष्ठ पर आपको आईआरएस अधिकारी बनने के विषय में सम्पूर्ण जानकारी से अवगत कराया उम्मीद है कि आपको जानकारी पसंद आयी होगी|