नरेगा जॉब कार्ड कैसे बनवाएं | ऑनलाइन आवेदन – एप्लीकेशन फॉर्म डाउनलोड

नरेगा जॉब कार्ड से संबंधित जानकारी

हमारे देश की अधिकांश जनसँख्या ग्रामीण क्षेत्रों में निवास करती है, और ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार न होनें के कारण ज्यादातर लोग शहरों की ओर पलायन करनें के लिए विवश है| इस प्रकार कि स्थितियों को देखते हुए केंद्र सरकार नें लोगो के इस पलायन को रोकने के लिए लोगों को ग्रामीण क्षेत्र में ही रोजगार उपलब्ध करानें का निर्णय लिया, और 2 अक्टूबर 2005 को नरेगा योजना का शुभारम्भ किया|

इस योजना को शुरू करनें का मुख्य उद्देश्य गाँव में रहने वाले लोगो को गाँव में ही रोजगार उपलब्ध कराना था, ताकि गाँव में रहने वाले लोग शहर में न जाकर गाँव में ही रोजगार प्राप्त कर सके। नरेगा योजना की शुरुआत 2 फरवरी 2006 को आंध्र प्रदेश के बांदावाली जिले के अनंतपुर नामक गाँव से हुई थी| हालाँकि शुरुआत में इस योजना को 200 गांवों में लागू किया गया था, बाद में इसे पूरे देश में लागू कर दिया गया|  नरेगा योजना क्या है, नरेगा जॉब कार्ड कैसे बनवाएं, ऑनलाइन आवेदन के बारें में विस्तार से जानकारी दे रहे है|

 बीडीसी का नामांकन | BDC की योग्यता

नरेगा/मनरेगा योजना क्या है (What is NREGA / MNREGA Scheme)

नरेगा का पूरा नाम राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (National Rular Employment Guarantee Act) है| इस योजना की रूपरेखा 2 अक्टूबर 2005 को रखी गयी थी और इसकी शुरुआत 2 फरवरी 2006 को हुई थी| हालाँकि 2 अक्टूबर 2009 को इस योजना का परिवर्तित कर मनरेगा रख दिया गया| मनरेगा का पूरा नाम महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act) है।

कुछ लोग नरेगा और मनरेगा को अलग-अलग योजनायें समझते है, जबकि नरेगा और मनरेगा दोनों एक ही योजना है| मनरेगा योजना भारत सरकार द्वारा शुरू की गई एक सामाजिक सुरक्षा योजना है, जो देश के ग्रामीण क्षेत्रों में रहनें वाले श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध करानें का कार्य करती है। हमारे देश में इस प्रकार की अनेक प्रकार की योजनायें संचालित की जा रही है, परन्तु मनरेगा एकमात्र ऐसी योजना है, जिसमें रोजगार की गारंटी के साथ ही कार्य न मिलनें की स्थिति में लाभार्थी को बेरोजगारी भत्ता दिया जाता है|

बीडीसी का चुनाव कैसे होता है

योजना के अंतर्गत कार्य कैसे मिलता है (How Do Get Work Under MNREGA Scheme)

इस योजना के अंतर्गत रोजगार प्राप्त करने के लिए सबसे पहले आवेदक को रजिस्ट्रेशन करवाना होता है|  रजिस्ट्रेशन के दौरान प्रस्तुत किये गये दस्तावेजों की जांच की जाती है| इसके उपरांत पचायत द्वारा उन्हें जॉब कार्ड प्रदान किया जाता है| इस जॉब कार्ड में पंजीकृत व्यक्ति से सम्बंधित सभी जानकारियां अंकित होती है| एक पंजीकृत व्यक्ति पंचायत या कार्यक्रम अधिकारी को लिखित रूप से कम के कम 14 दिनों तक काम करने के लिए एक आवेदन प्रस्तुत कर सकता है| 

ब्लाक प्रमुख का चुनाव कैसे होता है

मनरेगा योजना के अंतर्गत कार्य (Work under MNREGA Scheme)

इस योजना के अंतर्गत विभिन्न कार्य कराये जाते है, जिसमे से प्रमुख कार्य इस प्रकार से है |

  • लघु सिंचाई
  • बागवानी
  • जल संरक्षण
  • बाढ़ नियंत्रण
  • भूमि विकास
  • गौशाला निर्माण कार्य
  • ग्रामीण सम्पर्क मार्ग निर्माण
  • सूखे की रोकथाम के अंतर्गत वृक्षारोपण
  • विभिन्न तरह के आवास निर्माण

 ग्राम प्रधान का चुनाव कैसे होता है | नियम

मनरेगा के प्रावधान (Provisions of MNREGA)

  • मनरेगा के अंतर्गत गाँव में रहने वाले प्रत्येक परिवार के वयस्क व्यक्ति को 100 दिन का रोजगार दिया जाएगा।
  • यदि 14 दिनों तक रोजगार न मिलनें पर उन्हें बेरोजगारी भत्ता दिये जानें का प्रावधान है।
  • जॉब कार्ड ग्राम पंचायत के द्वारा जारी किया जाता है।
  • इसमें महिला को 1 / 3 भाग आरक्षण दिया जाता है।
  • इसका कार्यान्वयन ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा किया जाता है।
  • यदि कार्यस्थल घर से 5 किलोमीटर से अधिक है, तो श्रमिक को 10 प्रतिशत मजदूरी अधिक दी जाती है|  
  • प्रत्येक दिन की मजदूरी सभी राज्यों में अलग-अलग निर्धारित की गई है|

ग्राम प्रधान की योग्यता | नामांकन

नरेगा जॉब कार्ड कैसे बनवाएं (How to get NREGA Job Card)

मनरेगा जॉब कार्ड बनाने के लिए आवेदन प्रक्रिया इस प्रकार है-

  • सबसे पहले आपको  मनरेगा की ऑफिसियल वेबसाइट https://nrega.nic.in/netnrega/HomeGP.aspx पर जाना होगा|
  • होम पेज पर आपको Gram Panchayat का सेक्शन दिखाई देगा, इस सेक्शन में Data Entry ऑप्शन पर क्लिक करे|
  • अब आपके सामने एक पेज ओपन होगा, जिसमें आपको अपनें राज्य का चयन करना होगा|
  • स्टेट सेलेक्ट करनें के बाद एक नया पेज ओपन होगा, जिसमें Financial Year , District , Block , Panchayat , User ID ,Password ,कैप्चा कोड आदि को चुनना होगा| इसके बाद आपको लॉगिन बटन पर क्लिक करना होगा|
  • लॉगिन करने के बाद आपके सामने एक नया पेज ओपन होगा| इस पेज पर आपको Registration & Job Card के विकल्प पर क्लिक करना होगा|
  • अब आपको आपको BPL Data के विकल्प पर क्लिक करना होगा| 
  • अब आपके सामने एक फॉर्म ओपन होगा, जिसमें पूछी गयी सभी जानकारी जैसे गांव , परिवार के मुखिया का नाम , मकान संख्या , वर्ग , पंजीकरण की तारीक, आवेदक का नाम ,लिंक ,आयु आदि भरनी होगी |
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको save  बटन पर क्लिक करना होगा, सेव करने के बाद आपके सामने नया पेज ओपन होगा| इस पेज पर आपको आपका रजिस्ट्रेशन नंबर मिल जायेगा और फिर आपको अपनी फोटो अपलोड करनी होगी |
  • इस प्रकार आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो गया, और आप इसे डाउनलोड कर रख सकते है।

जिला पंचायत चुनाव कैसे होता है