यूजीसी नेट एग्जाम क्या है | यूजीसी नेट परीक्षा की तैयारी | UGC NET Exam in Hindi

भारत में UGC की स्थापना वर्ष 1956 में की गई थी | यह एक तरह की ऑनलाइन परीक्षा होती है | यदि आप किसी सरकारी या निजी कॉलेज में प्रोफेसर के पद पर कार्य करना चाहते है तो उसके लिए आपको UGC NET की एक ऑनलाइन परीक्षा को देना होता है | इस परीक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद ही आपको किसी विश्वविद्यालय में प्रोफ़ेसर के पद योग्य माना जाता है | यह कम्प्यूटर आधारित एक ऑनलाइन परीक्षा होती है | UGC की परीक्षा को वर्ष में दो बार आयोजित किया जाता है |

UGC की ओर से इसकी परीक्षा को पहले सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंड्री एजुकेशन (CBSE – Central Board of Secondary Education) के द्वारा आयोजित किया जाता था,किन्तु दिसम्बर 2018 के बाद से इसकी परीक्षा का आयोजन राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (NTA – National Testing Agency) द्वारा किया जाने लगा है | यदि आप भी UGC NET के बारे अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो इस पोस्ट में आपको यूजीसी नेट एग्जाम क्या है, यूजीसी नेट परीक्षा की तैयारी, UGC NET Exam in Hindi, के बारे में सम्पूर्ण जानकारी दी जा रही है |

गेट एग्जाम (Gate Exam) क्या है

युजीसी और नेट का फुल फॉर्म (Full Form Of UGC and NET)

  • यूजीसी को हिंदी भाषा में “विश्वविद्यालय अनुदान आयोग” तथा अंग्रेजी भाषा में इसे (UGC-University Grants Commission) कहा जाता है |
  • नेट को हिंदी भाषा में “राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा” तथा अंग्रेजी भाषा में इसे (NET -National Eligibility Test) कहते है |

यूजीसी नेट परीक्षा क्या है (What is UGC NET Exam)

यह एक कम्प्यूटर आधारित परीक्षा होती है, जिसे राष्ट्रीय स्तर पर योग्यता प्राप्त है | सीबीएसई या नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) के द्वारा UGC की परीक्षा का आयोजन किया जाता है | इस परीक्षा का आयोजन मुख्य रूप से पोस्ट ग्रेजुएट छात्रों को विश्वविद्यालय में प्रोफ़ेसर के पद पर नौकरी पाने तथा P.HD स्तर के कार्यक्रमो में प्रवेश प्राप्त करने के लिए किया जाता है |

इस परीक्षा के माध्यम से अभ्यर्थी की शिक्ष्रण व्यवसाय और अनुसंधान को योग्यता को जांचा जाता है | इस परीक्षा में परास्नातक में संयुक्त सभी विषयो को आयोजित किया गया है | अभ्यर्थी अपनी इच्छानुसार विषय को चुनकर इसकी तैयारी कर सकते  है | इसका मुख्यालय दिल्ली में स्थिति है |

खंड शिक्षा अधिकारी (BEO) क्या है

यूजीसी नेट एग्जाम 2021 (UGC NET Exam Dates 2021)

इस वर्ष UGC NET 2021 की परीक्षा की तारीख को अधिसूचना के साथ जारी किया जायेगा | इसलिए कैंडिडेट को महत्वपूर्ण तारीखों पर नजर रखना चाहिए, ताकि उन्हें अपडेट मिलती रहे, ताकि आधिकारिक घोषणा होने के बाद अभ्यर्थी परीक्षा में प्रवेश कर सके |

नेट की परीक्षा के लिए मान्य आयु (Age for NET Exam)

यदि आप जूनियर रिसर्च फैलोशिप की परीक्षा में प्रवेश करना चाहते है, तो आपको अधिकतम आयु 28 वर्ष तक होनी चाहिए | इसके अतिरिक्त यदि आप सहायक प्रोफेसर के पद के लिए परीक्षा में प्रवेश लेना चाहते है तो उसके कोई आयु सीमा को निर्धारित नहीं किया गया है |

बेसिक शिक्षा अधिकारी (BSA) क्या होता है

नेट की परीक्षा के लिए शैक्षिक योग्यता (Net Exam Educational Qualification)

अभ्यर्थी जो इस परीक्षा में प्रवेश पाना चाहते है उन्हें परास्नातक से न्यूनतम 55% अंक प्राप्त होने चाहिए | आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए 5% अंको की छूट प्रदान की गई है |

नेट की परीक्षा का आयोजन (Conduct of Exam)

यूजीसी नेट की परीक्षा को नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) द्वारा देश के तक़रीबन 598 शहरों में आयोजित किया जाता है, यह परीक्षा वर्ष में दो बार आयोजित होती है | मार्च और सितम्बर के माह में इसकी अधिसूचना को जारी किया जाता है, तथा जून और दिसंबर के महीने में परीक्षा आयोजित होती है |

यह परीक्षा दो शिफ्टों में यानि कि पालियो में आयोजित की जाती है, प्रथम पाली सुबह 9:30 बजे से आरम्भ होती है, तथा दोपहर में 1:00 बजे समाप्त होती है, दूसरी पाली दोपहर 2:30 से शुरू होकर, शाम 6:00 बजे समाप्त होती है | यूजीसी नेट की परीक्षा दो भाषाओ हिंदी और इंग्लिश में होती है | अभ्यर्थी को फॉर्म भरते वक़्त अपनी भाषा का चयन करना होता है |

ITI Course (आईटीआई) कैसे करे

यूजीसी परीक्षा पैटर्न (UGC Exam Pattern)

नेट की परीक्षा में दो पेपर को निर्धारित किया जाता है,यह दोनों पेपर कम्प्यूटर आधारित होते है तथा इनमे वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जाते है | प्रथम परीक्षा में 100 अंक निर्धारित होते हैं जिसमे 50 प्रश्नो को पूछा जाता है, इन्हे हल करने के लिए 1 घंटे का समय दिया जाता है | द्वितीय पेपर 200 अंको का होता है, जिसमे अभ्यर्थी को 100 प्रश्नो के उत्तर देने होते है | इसके लिए 2 घंटे का समय निर्धारित किया गया है | नेट की परीक्षा में कुल 150 प्रश्नो को पूछा जाता है, जिनके लिए 300 अंक तथा 3 घंटे का समय निर्धारित किया गया है |

पालीपेपरप्रश्न संख्याअंकसमय अवधि
प्रथमI501001 घंटा
द्वितीयII1002002 घंटा
कुल1503503 घंटे

आईपीओ (IPO) क्या है

यूजीसी की परीक्षा प्रक्रिया

  • यूजीसी की परीक्षा की अधिसूचना का जारी होना |
  • इसके बाद अभ्यर्थी को ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भरना होगा |
  • आवेदन के सम्पूर्ण होने पर यूजीसी द्वारा अभ्यर्थी का एडमिट कार्ड जारी करना |
  • एडमिट कार्ड को डाउनलोड करना और निर्धारित समय व् स्थान पर पहुंच कर परीक्षा देना |
  • परीक्षा के दौरान यूजीसी द्वारा उत्तर पुस्तिका जारी करना |
  • यूजीसी का परीक्षा फल जारी करना |
  • अभ्यर्थी के सफल हो जाने पर वह विश्वविद्यालय या महाविद्यालय में शिक्षक पद के लिए आवेदन कर सकता है, साथ ही अभ्यर्थी पीएचडी प्रोग्राम में भी आवेदन कर सकता है |

आईआरएस (IRS) अधिकारी कैसे बने

यूजीसी नेट की परीक्षा की तैयारी कैसे करे (Preparation for UGC NET Exam)

  • नेट की परीक्षा की तैयारी करते समय अपने द्वारा चुने गए विषयो के पाठ्यक्रम की जानकारी अवश्य होनी चाहिए | इसके पाठ्यक्रम को आपको अच्छे से समझना होगा क्योकि इसमें पाठ्यक्रम काफी विस्तारित होता है | इसमें प्रश्न काफी कठिन तथा काफी गहरायी से पूछे जाते है, इसलिए आपको सही जानकारी होनी जरूरी है वरना आप इसके उत्तर को नहीं दे पाएंगे |
  • UGC की बेहतर तैयारी के लिए आपको कम-से-कम 4 से 6 महीने तक का समय चाहिए होगा |
  • परीक्षा में पूछे जाने वाले सभी प्रश्न वैकल्पिक होते है, तथा सभी विकल्प काफी मिलते-जुलते होते है, जिससे अभ्यर्थी को उत्तर देते समय भ्रान्ति उत्पन्न हो, इसलिए बिलकुल निश्चित होकर ही सवालो के जवाब दे |
  • नेट की परीक्षा की तैयारी करते समय आप पिछले वर्ष के प्रश्न पत्रों की सहायता ले सकते है, इसके लिए आप इसकी आधिकारिक वेबसाइट से इन प्रश्न पत्रों को डाउनलोड कर सकते है |
  • परीक्षा की तैयारी अच्छी हो इसके लिए आपको नोट्स तैयार कर लेने चाहिए, इन नोट्स की मदद से आप रिवीजन अत्यंत सहायता प्राप्त कर सकते है |
  • यदि आप नेट की परीक्षा की अच्छी तैयारी करना चाहते है तो इसके लिए आपको कोचिंग संस्थानों की सहायता लेनी चाहिए |
  • अध्ययन से सम्बंधित सहायता के लिए आप Google या अन्य तरीको का इस्तेमाल कर सकते है |
  • आपको उन दो विषयो को चुनना चाहिए जिसका आपको अच्छा ज्ञान हो |
  • तैयारी की गुणवत्ता की गति पर अधिक ध्यान दे |

नई शिक्षा नीति क्या है