बेसिक शिक्षा अधिकारी (BSA) क्या होता है | तैयारी कैसे करे | कार्य और सैलरी

बेसिक शिक्षा अधिकारी (BSA) से सम्बंधित जानकारी

बेसिक शिक्षा अधिकारी को बीएसए (BSA) भी कहते है, यह जिले में शिक्षा विभाग का सर्वोच्च अधिकारी होता है, सम्पूर्ण जिले में शिक्षा से सम्बंधित सभी कार्यवाही बेसिक शिक्षा अधिकारी के तहत पूर्ण होती है, इस पद पर चयन के लिए प्रतिवर्ष राज्य लोग सेवा आयोग के द्वारा विज्ञापन जारी किया जाता है, यह पद प्रतिष्ठित तथा जिम्मेदारी वाला होता है| शिक्षा विभाग का संचालन बेसिक शिक्षा अधिकारी के द्वारा होता है, सम्पूर्ण जिले में शिक्षा व्यवस्था को सुचारु रूप से कार्यान्वित करना तथा संविदा पर भर्ती प्रक्रिया बेसिक शिक्षा अधिकारी के द्वारा ही पूर्ण होती है | यदि आप भी पद पर कार्यरत होने में रूचि रहते है आपको “बेसिक शिक्षा अधिकारी (BSA) क्या है? तैयारी कैसे करे,  पूरी जानकारी” उपलब्ध कराई गयी है|

आईआरएस (IRS) अधिकारी कैसे बने

बेसिक शिक्षा अधिकारी  क्या होता है? (What is Basic Shiksha Adhikari)

प्रत्येक राज्य के शिक्षा विभाग में बेसिक शिक्षा का पद जिला स्तरीय प्रशासनिक पद होता है। शिक्षा से सम्बंधित सभी कार्य बेसिक शिक्षा अधिकारी की देख-रेख में संपन्न होते है यह एक प्रशासनिक तथा ग्रुप (बी) यानि कि राजपत्रित पद होता है | इस पद पर रहते हुए सम्पूर्ण जिले में शिक्षा का संचालन करना होता है | जिले के सभी प्रधानाध्यापकों, अध्यापकों, प्राइमरी तथा जूनियर हाईस्कूल की जाँच- पड़ताल करना होता है तथा शिक्षा सम्बन्धी कार्यो में अव्यवस्था तथा कमी होने की दशा में दंड का निर्धारण करना होता है |

बेसिक शिक्षा अधिकारी का कार्य शिक्षा व्यवस्था में सुधार करना तथा शिक्षा व्यवस्था के तहत शिक्षा के स्तर को उठाना एवं जिले के विद्यालयों की निगरानी सम्बन्धी कार्यो की देख-रेख करना होता है| इस कार्य के लिए बेसिक शिक्षा अधिकारी के अधीन बीईओ (Block Education Officer) का दल कार्य करता है, इस दल का कार्य ब्लाक स्तर पर सभी प्राथमिक स्कूल की निगरानी तथा गणना करना होता है|

दीक्षा एप्प या पोर्टल क्या है

बेसिक शिक्षा अधिकारी कैसे बने (How to Become BSA)

बेसिक शिक्षा अधिकारी पद के लिए प्रतिवर्ष राज्य लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा विज्ञापन जारी किये जाते है|  इस पद के लिए निर्धारित तिथि के अंदर आवेदन करना होता है, तथा राज्य लोक सेवा आयोग के द्वारा आयोजित परीक्षा में सम्मिलित होना रहता है | यह परीक्षा तीन चरण में पूर्ण होती है, प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद मुख्य परीक्षा में भाग लेने के लिए आवेदन जारी किये जाते है, निर्धारित तिथि में आयोजित परीक्षा में उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है, साक्षात्कार में उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र प्रदान कर दिया जाता है |

बेसिक शिक्षा अधिकारी के लिए चयन प्रक्रिया (Selection Process for BSA)

  • प्रारम्भिक परीक्षा (Preliminary Examination)
  • मुख्य परीक्षा (Main Examination)
  • साक्षात्कार (Interview)

प्रारम्भिक परीक्षा (Preliminary Examination)

परीक्षा के प्रथम चरण में प्रारंभिक परीक्षा होती है, इसमें बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाते है, इस परीक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद मुख्य परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए आवेदन जारी किये जाते है|

मुख्य परीक्षा (Main Examination)

मुख्य परीक्षा लिखित परीक्षा होती है, इसके अंतर्गत अनिवार्य विषयों में सामान्य हिंदी, सामान्य अंग्रेजी और सामान्य ज्ञान से प्रश्न आते है तथा वैकल्पिक विषयों में से एक विषय का चुनाव करना होता है| जैसे एग्रीकल्चर, हॉर्टिकल्चर,  केमिस्ट्री, इंजीनियरिंग, फॉरेस्ट्री,फिजिक्स, वेटेरिनरी, साइंस, बॉटनी, कंप्यूटर अप्लीकेशन साइंस, एन्वार्यमेंटल साइंस आदि से सम्बंधित  प्रश्न पूछे जाते है |

साक्षात्कार (Interview)

लिखित परीक्षा का चरण सफलता प्राप्त करने के बाद साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है।साक्षात्कार के तहत व्यक्तित्व का परीक्षण होता है। इसमें उत्तीर्ण होने के बाद नियुक्ति पत्र जारी कर दिया जाता है|

खंड शिक्षा अधिकारी (BEO) क्या है

बेसिक शिक्षा अधिकारी के लिए योग्यता (Eligibility for BSA)

बेसिक शिक्षा अधिकारी बनने के लिए किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या शिक्षा संस्थान के द्वारा किसी भी विषय में स्नातक डिग्री प्राप्त होनी अनिवार्य होता है|

बेसिक शिक्षा अधिकारी के लिए आयु सीमा (Age for BSA)

इस पद के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों की न्यूनतम आयु 21 वर्ष तथा अधिकतम 40  वर्ष होनी चाहिए तथा ओबीसी एवं एससी/एसटी वर्ग को आयु सीमा में सरकार के द्वारा वरीयता प्रदान की जाती है|

बेसिक शिक्षा अधिकारी का वेतन (Salary for BSA)

बेसिक शिक्षा अधिकारी का वेतनमान  रु० 9300-34800 से वेतनमान रु 4200 से 15600-39100 के ग्रेड वेतन 5400 दिया जाता है |

बेसिक शिक्षा अधिकारी के कार्य (Work of BSA)

  • सभी प्राथमिक, जूनियर हाईस्कूलों पर प्रशासकीय नियंत्रण बनाये रखना होता है।
  • अधीनस्थ कर्मचारियों के द्वारा लिए जाने वाले अवकाश पर विचार करना तथा अवकाश प्रदान करना होता है|
  • बेसिक शिक्षा निधि का लेखा-जोखा तैयार कराना तथा निरिक्षण करके रखवाना होता है| 
  • अराजपत्रित अधिकारियों के मध्य होने वाले विवाद की जांच कर समुचित कार्रवाई का निर्धारण करना।
  • विद्यालयों का निरीक्षण करना तथा अनियमितता होने की दशा में उचित कार्रवाई करना।
  • सभी अधीनस्थ कर्मचारियों के वेतन वितरण को स्वीकृति प्रदान करना|

यहाँ पर हमनें आपको बेसिक शिक्षा अधिकारी के विषय में बताया गया है अब आशा करता हूँ जानकारी आपको पसंद आएगी |

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता कैसे बनें