भारत में विश्व धरोहर स्थलों की सूची | World Heritage Sites In India In Hindi

भारत में यूनेस्को के पहले तो कुल 38  विश्व धरोहर स्थल मौजूद थे, लेकिन वर्ष 2021 में धोलावीरा और रामप्पा मंदिर को ‘सांस्कृतिक’ श्रेणी की सूची में शामिल कर लिया गया है | यूनेस्कों ने इन दोनों विश्व धरोहर को इस लिस्ट में जोड़ने का फैसला किया था और यह फैसला  यूनेस्को की विश्व धरोहर समिति के चीन में आयोजित 44वें सत्र में किया गया है |

इसलिये यदि आपको भारत में विश्व धरोहर से सम्बंधित जानकारी नहीं प्राप्त है और आप इसके विषय में जानना चाहते है, तो इस लेख में आपको भारत में विश्व धरोहर स्थलों की सूची | World Heritage Sites In India In Hindi के बारे पूरी जानकारी प्रदान की जा रही है, तो आइये पढ़ते है |

भारत के प्रमुख बांधों की सूची (डाउनलोड पीडीएफ)

 

भारत में विश्व धरोहर स्थल कौन – कौन से है ( How many world heritage sites are present in India ) ? 

आगरा फोर्ट (1983)  

आगरा का किले का निर्माण  1983 ई. में किया गया था | इस किले को प्रमुख रूप से एक  यूनेस्को द्वारा घोषित विश्व धरोहर स्थल के नाम से जाना जाता है। इस किले का निर्माण  भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के आगरा शहर में किया गया है |

ताज महल (1983)  

ताज महल की यह इमारत एक विरही मुगल बादशाह शाहजहाँ ने  अपनी  पत्नी के म्रत्यु के बाद उनकी याद में बनवाया था | शाहजहाँ की पत्नी का नाम मुमताज था | इसके बाद 1983 में यह भारत के विश्व धरोहर के रूप में प्रचलित हो गया है |  

फतेहपुर सिकरी (1986)  

फतेहपुर सिकरी 1986 में विश्व धरोहर बन गया है |  यह एक नगर है, जिसे मुख्य रूप से मुगल सम्राट अकबर ने सन् 1571 में बसाने का काम किया था। वर्तमान समय में फतेहपुर सिकरी आगरा जिला का एक नगरपालिका बोर्ड के रूप में भी जाना जाता है |

अजंता गुफाएं (1983)  

अजन्ता गुफाओं को सन् 1983 से युनेस्को की विश्व धरोहर स्थल के रूप घोषित कर दिया गया है। अजन्ता गुफाएँ महाराष्ट्र, भारत में स्थित तकरीबन 29 चट्टानों को काटकर बना बौद्ध स्मारक गुफाओं के रूप में प्रचलित है | 

एलोरा गुफाएं (1983)  

एलोरा गुफाओं को वेरुळ के नाम से भी जाना जाता है | यह एक पुरातात्विक स्थल है, जो भारत में औरंगाबाद, महाराष्ट्र से 30 कि॰मि॰ (18.6 मील) की दूरी पर बना हुआ है और इसके साथ ही यह एक भारत का विसव धरोहर स्थल भी है |

एलीफैंटा गुफाएं (1987)  

एलीफैंटा गुफाओं को घारापुरी गुफाओं के नाम से भी जाना जाता है | यह मुख्य रूप से भारत में मुम्बई के गेट वे ऑफ इण्डिया से लगभग 12 किलोमीटर दूरी पर स्थित है | यह विश्व का एक धरोहर स्थल है,  जो अपनी कुल सात कलात्मक गुफाओं के कारण पोरे भारत में प्रसिद्ध है | 

छत्रपति शिवाजी टर्मिनस (2004)  

छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस पहले से ही विक्टोरिया टर्मिनस के नाम से भी जाना जाता था | यह मुंबई का एक प्रसिध्द रेलवे स्टेशन है | वहीं इसे 2004 में विश्व धरोहर स्थल के रूप में घोषित कर दिया गया है |

पश्चिमी घाट, कर्नाटक, केरला, तमिलनाडु, महाराष्ट्र (2012) 

पश्चिमी घाट भारत का एक  धरोहर स्थल है, जिसकी कुल लम्बाई 1600 कि लोमीटर है । इस क्षेत्र में गुजरात, महाराष्ट्र, गोवा, तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक  आदि राज्य शामिल किया जाते है |

विक्टोरियन गोथिक एंड आर्ट डेको एन्सेंबलेस (2018)

विक्टोरियन गोथिक एंड आर्ट डेको एन्सेंबलेस को भारत का एक धरोहर स्थल के रूप में प्रसिध्द है | भारत के महाराष्ट्र में मुंबई के फोर्ट इलाके में स्थित है।   

मोन्यूमेंट ऑफ़ खजुराहो (1986)

खजुराहो भारत के मध्य प्रदेश प्रान्त के छतरपुर जिले में स्थित एक प्रमुख शहर है | यह शहर मुख्य रूप से प्राचीन एवं मध्यकालीन मंदिरों के लिये विश्वविख्यात है।  

भारत के मंदिरों की सूची

सांची के बौद्ध स्मारक (1989)

मध्य प्रदेश के सांची में स्थित बौद्ध स्मारकों को 1989 में यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर स्थल के रूप में अपना लिया गया था है | यह  हार्ट का एक ऐसा स्थल है, जहाँ पर  दुनिया के सबसे प्राचीन बौद्ध निर्माण कृतियों का निर्माण किया गया है | 

भीमबेटका की गुफाएं (2003)

भीमबेटका  की रहस्य मय गुफाएं मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से महज 45 किलोमीटर दूरी पर स्थित है |  इस गुफा में पांच पाषाण आश्रयों के समूह के नाम से भी जाना जाता है और इसके साथ ही इसे 2003 में विश्व धरोहर स्थल भी घोषित कर दिया गया था | 

काज़ीरंगा नेशनल पार्क (1985)

काजीरंगा नेशनल पार्क प्र्फ्मुख रूप से काजीरंगा राष्ट्रिय उद्यान भारतीय राज्य आसाम के गोलाघाट, कार्बी आंगलोंग आ नगाँव जिला में बिस्तार लिहले एगो राष्ट्रिय पार्क के रूप में प्रचलित है | इस पार्क को 1985 में  यूनेस्को  ने विश्व धरोहर स्थल घोषित कर दिया था | 

मानस वाइल्डलाइफ सैंक्चुअरी, असम (1985)

मानस वाइल्डलाइफ सैंक्चुअरी यूनेस्को द्वारा घोषित एक प्राकृतिक विश्व धरोहर स्थल बन चुका है | इसके साथ ही यह प्रमुख रूप से मानस राष्ट्रीय उद्यान या मानस वन्यजीव अभयारण्य के नाम से भी जाना जाता है |  यह राष्ट्रीय उद्यान  असम, भारत में स्थित हैं।   

नंदा देवी और वैली ऑफ़ फ्लावर्स नेशनल पार्क (1988) (2005)

1988 में नंदा देवी को अंग्रेजी में वैली ऑफ़ फ्लावर्स नेशनल पार्क कहा जाता है | 1988 में नंदा देवी को भारत का विश्व धरोहर स्थल  का नाम डे दिया गया था  |

ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क (2014)

ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क को हिन्दी में राष्ट्रीय उद्यान कहते है | ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में स्थित है। 2014 नेब यह भारत के विश्व धरोहर स्थर के लिस्ट में सामिल किया गया है |

हुमायूँ का मकबरा,दिल्ली (1993)

इस मकबरे का एक चकौर बगीचे की तरह है, इसलिये यह एक चकौर बगीचे के मध्य में स्थित है | इस मकरे को ईट के गारों से बनाया गया है | 

क़ुतुब मीनार एंड मोन्यूमेंट (1993)

क़ुतुब मीनार एंड मोन्यूमेंट एक भारत का प्रसिध्द विशव धरोहर स्थल है | यह मीनार दक्षिण दिल्ली शहर के महरौली भाग में स्थित है | यह मीनार पूरी तरह से ईटों की बनी मीनार है, जो सबसे ऊँची मीनार कही जाती है |

लाल किला (2007)

2007 में लाल किला परिसर के यूनेस्को द्वारा बिस्व धरोहर स्थल के रूप में मान्यता प्रदान कर दी गई थी | इस किले के मुख्य  द्वार पर प्रतिवर्ष स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) के अवसर पर भारत के प्रधानमंत्री जी द्वारा तिरंगा फहराया जाता है |

सूर्य मंदिर (1984)

कोणार्क सूर्य मंदिर को 1984 में भारत का विश्व धरोहर स्थल घोषित कर दिया गया था | यह मंदिर भारत के ओड़िशा के पुरी जिले में समुद्र तट पर पुरी शहर से लगभग 35 किलोमीटर (22 मील) स्थित है |  

चर्चेस एंड कॉन्वेन्ट्स ऑफ़ गोवा (1986)

भारत के गोवा जैसे बड़े शहर में चर्चों और गिरजाघरों का निर्माण 16वीं और 17वीं शताब्दी के बीच किया गया था और इनमें बेसिलिका ऑफ बोम जीसस, सेंट कैथेड्रल, सेंट फ्रांसिस असीसी के चर्च और आश्रम, चर्च ऑफ लेडी ऑफ रोजरी, चर्च ऑफ सेंट. ऑगस्टीन और सेंट कैथरीन चैपल आदि शामिल किये गये है | यह भारत का एक विश्व धरोहर स्थल है |

महाबलीपुरम मोन्यूमेंट (1984)

महाबलीपुरम मोन्यूमेंट को 1984 में यूनेस्को द्वारा भारत का विश्व धरोहर स्थल घोषित किया गया था |

ग्रेट लिविंग चोला टेम्पल (1987)

ग्रेट लिविंग चोला टेम्पल को तंजावुर के नाम से भी जाना जाता है | यह मंदिर चेन्नई से लगभग 350 किलोमीटर (220 मील) दक्षिण-पश्चिम में स्थित है ।  

मोन्यूमेंट ऑफ़ हम्पी (1986)

मोन्यूमेंट ऑफ़ हम्पी को सन 1984 में भारत का विश्व धरोहर स्थल घोषित कर दिया गया था | मध्यकालीन हिंदू राज्य विजयनगर साम्राज्य की राजधानी कही जाती थी | 

पत्तदकल मोन्यूमेंट (1987)

पत्तदकल मोन्यूमेंट को 1987 में भारत का विश्व धरोहर स्थल का नाम दे दिया था | यह  भारत के कर्नाटक राज्य में एक पट्टदकल्लु नामक कस्बे में स्थित एक मन्दिर के रूप में प्रसिध्द है |

चंपानेर पावागढ़ आर्कियोलॉजिकल पार्क (2004)

चंपानेर पावागढ़ आर्कियोलॉजिकल पार्क पावागढ़ पुरातात्विक उद्यान एक यूनेस्को द्वारा घोषित एक विश्व धरोहर स्थल है |

रानी की वाव (2014)

रानी की वाव को यूनेस्को ने भारत का विश्व धरोहर स्थल घोषित किया था | रानी की वाव भारत के गुजरात राज्य के पाटण में स्थित | इसमें एक बावड़ी (सीढ़ीदार कुआँ) है, जो पूरे भारत प्रसिध्द है |

धोलावीरा (2021)

धोलावीरा भारत के गुजरात राज्य के कच्छ ज़िले की भचाऊ तालुका में स्थित है | इसे 2021 में भारत के विश्व धरोहर स्थल की लिस्ट में शामिल किया गया है |

अहमदाबाद के ऐतिहासिक शहर (2017)

अहमदाबाद के ऐतिहासिक शहर भारत का सबसे पहले यूनेस्को की वर्ल्ड हेरिटेज सूची में शामिल किया गया था |   

महाबोधी टेम्पल (2002)

महाबोधि टेम्पल भारत का विश्व धरोहर स्थल है | यह विहार या महाबोधि मन्दिर, बोध गया में स्थित है |

नालंदा (2016)

नालंदा को 2016 में भारत का विश्व धरोहर स्थल घोषित किया गया है | 

केवलादेव नेशनल पार्क (1985)

केवलादेव नेशनल पार्क को 1985 में विश्व धरोहर स्थल घोषित किया गया है |

हिल फोर्ट्स (2013)

यूनेस्को ने हिल फोर्ट्स को सन 2013 में भारत का विश्व धरोहर स्थल घोषित किया गया था |

द पिंक सिटी (2019)

द पिंक सिटी  को 2019 में यूनेस्को द्वारा भारत का विश्व धरोहर स्थल घोषित किया है | 

जंतर मंतर (2010)

जंतर मंतर  को 2010 में भारत का विश्व धरोहर स्थल की लिस्ट में शामिल किया गया था | 

सुंदरबन नेशनल पार्क (1987)

सुंदरबन नेशनल पार्क को 1987 में भारत का विश्व धरोहर स्थल के रूप में चुना गया था |

कंचनजंगा नेशनल पार्क (2016)

कंचनजंगा नेशनल पार्क  को 2016 में यूनेस्को द्वारा भारत का धरोहर स्थल घोषित किया गया था | 

काकतिया रुद्रेश्वर (रामप्पा मंदिर) (2021)

काकतिया रुद्रेश्वर को रामप्पा मंदिर के नाम से भी जाना जाता है | इस मंदिर को 2021 मे भारत का विश्व धरोहर स्थल के रूप में स्वीकार कर लिया गया था |

कैपिटल कॉम्प्लेक्स (2016)

कैपिटल कॉम्प्लेक्स को 2016 में भारत का विश्व धरोहर स्थल घोषित कर दिया गया था |

भारत के पर्वतीय रेलवे, विभिन्न भारतीय राज्य (1999, 2005, 2008)

भारत की पर्वतीय रेलवे के तीन रेलमार्ग को क्रमशः 1999, 2005 एवं 2008 में यूनेस्को ने विश्व धरोहर स्थल के रूप में घोषित किया था |  

भारत के पर्वतों के नाम सूंची

भारत में विश्व धरोहर स्थलों की सूची ( World Heritage Sites In India In Hindi ) 

क्र.स.विश्व धरोहर स्थल के नाम सन स्थान 
1.आगरा फोर्ट  1983उत्तर प्रदेश
2.ताज महल1983
3.फतेहपुर सिकरी1986
4.अजंता गुफाएं  1983महाराष्ट्र
5.एलोरा गुफाएं1983
6.एलीफैंटा गुफाएं1987
7.छत्रपति शिवाजी टर्मिनस2004
8.पश्चिमी घाट, कर्नाटक, केरला, तमिलनाडु, महाराष्ट्र2012
9.विक्टोरियन गोथिक एंड आर्ट डेको एन्सेंबलेस2018
10.10. मोन्यूमेंट ऑफ़ खजुराहो  1986मध्य प्रदेश
11.सांची के बौद्ध स्मारक1989
12.भीमबेटका की गुफाएं2003
13.काज़ीरंगा नेशनल पार्क  1985असम
14.मानस वाइल्डलाइफ सैंक्चुअरी, असम1985
15.नंदा देवी और वैली ऑफ़ फ्लावर्स नेशनल पार्क  1988, 2005 उत्तराखंड
16. ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क  2014हिमाचल प्रदेश
17.हुमायूँ का मकबरा,दिल्ली1993दिल्ली
18.क़ुतुब मीनार एंड मोन्यूमेंट1993
19.लाल किला2007
20.सूर्य मंदिर1984
21.चर्चेस एंड कॉन्वेन्ट्स ऑफ़ गोवा  1986गोवा
22.तमिलनाडु महाबलीपुरम मोन्यूमेंट1984
23.ग्रेट लिविंग चोला टेम्पल1987
24.मोन्यूमेंट ऑफ़ हम्पी  1986कर्नाटक
25.पत्तदकल मोन्यूमेंट1987गुजरात
26.चंपानेर पावागढ़ आर्कियोलॉजिकल पार्क2004
27.रानी की वाव2014
28.धोलावीरा2021
29.अहमदाबाद के ऐतिहासिक शहर2017
30.महाबोधी टेम्पल  2002बिहार
31.नालंदा2016राजस्थान
32.केवलादेव नेशनल पार्क1985
33.हिल फोर्ट्स2013
34.द पिंक सिटी2019
35.जंतर मंतर2010
36.सुंदरबन नेशनल पार्क1987पश्चिम बंगाल
37.कंचनजंगा नेशनल पार्क2016सिक्किम
38.काकतिया रुद्रेश्वर (रामप्पा मंदिर)2021तेलंगाना
39.कैपिटल कॉम्प्लेक्स2016
40.भारत के पर्वतीय रेलवे, विभिन्न भारतीय राज्य1999, 2005, 2008

भारत के प्रमुख पर्यटन स्थलों की सूची (हिंदी में)