SEO क्या होता है | SEO का फुल फॉर्म | सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन कैसे करे

SEO क्या है

वर्तमान समय में यदि हमारे सामने कोई समस्या आ जाती है, या किसी भी विषय या वस्तु के बारें में जानकारी प्राप्त करनें के लिए हम सबसे पहले गूगल पर सर्च करते है, क्योंकि गूगल का दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन है| हालाँकि इसके आलावा भी कई सर्च इंजन है, परन्तु गूगल का उपयोग सबसे अधिक किया जाता है| जब हम कोई भी चीज सर्च करते है, सर्च होने के बाद जो पहले पेज पर हमे रिजल्ट्स दिखाई देते है, हम उसे ही ओपन करते है और उनमें अपना जवाब सर्च करते है। अधिकांश लोगों को अपना जवाब फर्स्ट पेज पर ही मिल जाता है, जिसके कारण पहले पेज पर रहने वाली वेबसाइट और ब्लॉग का ट्रैफिक बढ़ जाता है, और वह वेबसाइट टॉप रैंकिंग करती है जिससे उसे एक अच्छी इनकम प्राप्त होती है| एक वेबसाइट को अच्छी रैंकिंग और ऑर्गेनिक ट्रैफिक एक बेहतर SEO द्वारा प्राप्त होती है| आईये जानते है, कि SEO क्या होता है, SEO का फुल फॉर्म और सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन कैसे करे ?    

एसईओ का फुल फार्म (Full Form Of SEO)

एसईओ का सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (Search Engine Optimization) होता है। SEO एक ऐसी तकनीक है, जिसकी सहायता से हम अपने पेज को सर्च इंजन में टॉप पर ला सकते है|

एसईओ क्या होता है (What Is SEO)

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) एक ऐसी प्रक्रिया है, जिससे किसी भी Website को टॉप पर लाया जा सकता है| इस प्रक्रिया के अंतर्गत किसी भी वेबसाइट या ब्लॉग को प्रभावी तरीके से आर्गेनिक सर्च के लिए इम्प्रूवमेंट किया जाता है, जिससे सर्च इंजन में वेबसाइट और ब्लॉग की विजिबिलिटी बढ़ जाती है, और वह वेबसाइट सर्च इंजन में पहली रैंक पर आ जाती है| इसके अंतर्गत किसी भी वेबसाइट को सर्च इंजन फ्रेंडली बनाया जाता है इसे ही Search Engine Optimization (SEO) कहा जाता है।

यदि हम इसे सरल भाषा में कहे तो, इस तकनीक के माध्यम से किसी भी वेबसाइट पर अधिक से अधिक ट्रैफिक लाया जा सकता है| जैसे कि जब हम किसी कीवर्ड को गूगल में सर्च करते है, और उसका परिणाम अर्थात रिजल्ट पहले पेज पर ही मिल जाता है, इसका मतलब यह है, कि इस वेबसाइट का  Search Engine Optimization (SEO) अच्छा है|

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन कैसे करे (How To Do Search Engine Optimization)

सबसे पहले आप अपनी वेबसाइट बनाये, इसके बाद उसमें कंटेंट डालकर  पब्लिश करे|  कंटेंट को पब्लिश करनें के बाद ऐसा नहीं है कि आपकी वेबसाइट पर यूज़र्स या विजिटर आनेब लगेंगे| आपकी वेबसाइट पर यूजर तभी आएँगे जब आपकी साइट सर्च इंजन के पहले या दूसरे पेज पर दिखाई देगी, और यह तभी संभव है जब आप एसईओ अर्थात सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन करेंगे|   

गूगल और अन्य सर्च इंजन्स ने कुछ ऐसे नियम बनाये है, और नियमों के अनुसार हम जो कार्य करेंगे वह एसईओ कहलाता है| इन्ही नियमों के द्वारा आप अपनी साइट पर भारी संख्या में ट्रैफिक बढ़ा सकते है। अन्य सर्च इंजन्स की अपेक्षा गूगल सबसे अधिक उपयोग किये जाने वाला सर्च इंजन है, क्योंकि गूगल सभी Content  को Index Organise करता है| जैसे ही कोई यूज़र गूगल द्वारा कोई चीज सर्च की जाती है, तो गूगल उस कंटेंट को Keywords के आधार पर Show करता है। SEO करनें के लिए इससे सम्बंधित कुछ बेसिक जानकारी होना आवश्यक है, जो इस प्रकार है-

  • जब भी आप Domain ख़रीदे, तो उसकी समय अवधि अधिक होनी चाहिए|  
  • SEO के लिए आप सही SEO Keywords का चयन करे।
  • जिन Keywords को आपने Select  किया है, उन Keywords का Use अपनी वेबसाइट और ब्लॉग में करे।
  • आप अपनी वेबसाइट का Sitemap Google में सबमिट करे| Sitemap.Xml होती है, जिसमे हमारी साइट की सभी जानकारी होती है।
  • Blog पर सदेव उपयोगी कंटेंट ही डाले, जिससे आपकी साइट पर रिटर्निंग विजिटर की संख्या बढ़ेगी।
  • आप Blog पर नियमित रूप से कंटेंट डाले और ब्लॉग का कंटेंट विस्तृत होना चाहिए।
  • ब्लॉग का टाइटल (Title) और विवरण (Description) आकर्षक और प्रभावशाली होना चाहिए।

एसईओ के प्रकार (Types of SEO)

एसईओ मुख्यतः दो प्रकार के होते है, जो इस प्रकार है-

  • ऑन पेज एसईओ (On Page SEO)
  • ऑफ पेज एसईओ (Off Page SEO)

ऑन पेज एसईओ कैसे करे (How To Do On Page SEO)

  • Title में Keywords का उपयोग करे
  • Article या पोस्ट के First Paragraph में कीवर्ड का Use करे
  • Permalink (Post URL) में Keyword का Use करे
  • आर्टिकल के बारे में कम से कम 700 शब्दों में लिखे
  • H2 और H3 Heading में कीवर्ड का उपयोग करके
  • इमेज के Alt Tag में कीवर्ड का उपयोग करके।
  • Blog में संबंधित आर्टिकल को Interlink करके।
  • किसी भी image को अपलोड करने से पहले ऑप्टिमाइज़ अवश्य करे
  • वेबसाइट की लोडिंग स्पीड को बढ़ा कर रखे।
  • डिस्क्रिप्शन टाइटल से संबंधित ही रखे।

ऑफ पेज एसईओ कैसे करे (How To Do Off Page SEO)

ऑफ पेज एसईओ का कार्य Website और Blog के बाहर होता है। ऑफ पेज एसईओ में हमे अपनी वेबसाइट का प्रमोशन करना होता है| ऑफ पेज एसईओ के अंतर्गत इन तकनीकों के माध्यम से आप अपने Blogs को और प्रभावशाली बना सकते है, जिससे आपके ब्लॉग्स पर अधिक से अधिक यूजर्स विजिट करे, यह टेक्निक इस प्रकार है-

  • जब आप नए आर्टिकल पोस्ट करते है, तो उस आर्टिकल को प्रसिद्ध आर्टिकल पर अवश्य  Publish करे।
  • अपने Blog को प्रभावशाली बनाने के लिए सर्च इंजन सबमिशन (Search Engine Submission) का उपयोग करके भी ट्रैफिक बढ़ा सकते है।
  • आप Forum Posting Use करके भी रैंकिंग को बढ़ा सकते है।
  • Blog Comment करके भी आप अपनी साइट पर ट्रैफिक बढ़ा सकते है।
  • अपनी Site पर Traffic बढ़ाने के लिए आप YouTube Channel पर किसी वीडियो की डिस्क्रिप्शन के नीचे लिंक Add करके भी ट्रैफिक बढ़ा सकते।
  • किसी ब्लॉग के लिए पोस्ट लिख कर उस पर Publish करना मतलब Guest Post करना लेकिन याद रहे की उसकी रैंक अच्छी हो।
  • आप अपनी वेबसाइट या ब्लॉग की इमेजस को फोटो शेयरिंग वेबसाइट पर Add करके भी ट्रैफिक बढ़ा सकते है।