आसियान (ASEAN) क्या है | फुल फार्म | स्थापना | उद्देश्य | सदस्य देशों के नाम | पूरी जानकारी

आसियान (ASEAN) से सम्बंधित जानकारी

सम्पूर्ण विश्व छोटे और बड़े देशों में विभाजित है | यह देश अपनी- अपनी क्षमता के अनुसार विकास कर रहे है, इसी में कुछ देश विकसित हो चुके है और कुछ विकासशील है | यह सभी देश अपने हितों के लिए कुछ देशों का समूह बनाते है | प्रत्येक समूह के देश अपने सदस्य देशों के साथ प्रौद्योगिकी का आदान- प्रदान करते है | जिससे विकासशील देशों को सहायता प्राप्त होती है | इसी प्रकार का एक समूह आसियान है, यदि आपको आसियान के बारें में जानकारी नहीं है, तो आसियान (ASEAN) क्या है, फुल फार्म, स्थापना, उद्देश्य और सदस्य देशों के नाम के बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से जानकारी दे रहे है|

एमएसएमई (MSME) क्या है

आसियान फुल फार्म (ASEAN Full Form)

आसियान(ASEAN) का फुल फार्म Association of Southeast Asian Nations (एसोसिएशन ऑफ साउथईस्ट एसिएन नेशन) है। आसियान दक्षिण पूर्वी एशियाई देशों का संगठन है। इस संगठन का मुख्य उद्देश्य दक्षिण-पूर्व एशिया के देशों के बीच सांस्कृतिक, सुरक्षा, राजनीति, अर्थव्यवस्था और आपसी क्षेत्रीय सहयोग को सुद्दृढ़ बनाना है।

आसियान क्या है (What is ASEAN)

आसियान दक्षिण-पूर्व एशियाई देशों का एक क्षेत्रीय संगठन है| इस संगठन की स्थापना 8 अगस्त 1967 को थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक में की गई थी| जिस समय इसकी स्थापना हुई उस समय इसके सिर्फ पांच देश थाईलैंड, इंडोनेशिया, मलेशिया, फिलिपींस और सिंगापुर शामिल थे| वर्तमान में इस संगठन का मुख्यालय इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता में स्थित है| इसकी स्थापना एशिया-प्रशांत क्षेत्र के देशों के मध्य राजनीतिक और सामाजिक तनाव को कम करने और आपसी सहयोग को बढ़ाने के लिए की गयी है |

मिलियन, बिलियन, ट्रिलियन क्या होता है

आसियान की स्थापना कब हुई (When was ASEAN Founded)

ASEAN (आसियान) की स्थापना 8 अगस्त 1967 को थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक में हुई थी | स्थापना के समय इसके केवल पांच सदस्य थे | इन पांच सदस्यों में थाईलैंड, मलेशिया, इंडोनेशिया, सिंगापुर तथा फिलिपिंस थे | इसके बाद समय- समय पर आसियान के सदस्यों की संख्या में वृद्धि हुई है | इस समूह में ब्रूनेई (1984), वियतनाम (1995 ), लाओस (1997), म्यांमार (1997), कंबोडिया (1999) में सम्मिलित हुए | इसका आदर्श वाक्य ‘वन विजन, वन आइडेंटिटी, वन कम्युनिटी’ निर्धारित गया है | इसका सचिवालय इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता में स्थित है | प्रत्येक वर्ष 8 अगस्त को आसियान दिवस मनाया जाता है |

आसियान के सदस्य देश (Member)

इंडोनेशिया, मलेशिया, फिलीपींस, सिंगापुर, थाईलैंड, ब्रुनेई, वियतनाम, लाओस, म्यांमार और कंबोडिया है, इसके कुल 10 सदस्य है |

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी (Statue of Unity) क्या है

आसियान में वर्ष के अनुसार घटनाक्रम (Events By Year in ASEAN)

  • वर्ष 1967 में आसियान घोषणापत्र (बैंकॉक घोषणा) के द्वारा इसकी स्थापना हुई | इसके संस्थापक देश इंडोनेशिया, मलेशिया, फिलीपींस, सिंगापुर और थाईलैंड है|
  • वर्ष 1995 में दक्षिण पूर्व एशिया को परमाणु मुक्त क्षेत्र करने के लिए समझौता किया गया|
  • वर्ष 1997 में आसियान विजन 2020 को लागू कर दिया गया|
  • वर्ष 2003 में बाली कॉनकॉर्ड द्वितीय|
  • वर्ष 2007 में सेबू घोषणा|
  • वर्ष 2008 में आसियान चार्टर लागू कर दिया गया|
  • वर्ष 2015 में आसियान समुदाय का निर्माण किया गया|

आसियान समुदाय के स्तम्भ (ASEAN Community Pillars)

  • आसियान राजनीतिक-सुरक्षा समुदाय
  • आसियान आर्थिक समुदाय
  • आसियान सामाजिक-सांस्कृतिक समुदाय

आसियान का उद्देश्य (ASEAN Objective)

  • दक्षिण पूर्व एशियाई देशों में आर्थिक विकास, सामाजिक प्रगति तथा सांस्कृतिक विकास को बढ़ावा देना|
  • संयुक्त राष्ट्र चार्टर के सिद्धांतों के अनुसार क्षेत्रीय शांति और स्थिरता बनाये रखना|
  • सामान्य हित के मामलों के आर्थिक, सामाजिक, सांस्कृतिक, तकनीकी, वैज्ञानिक और प्रशासनिक क्षेत्रों में पारस्परिक सहयोग बढ़ाना|
  • अंतर्राष्ट्रीय और क्षेत्रीय संगठनों के साथ सहयोग बढ़ाना|
  • कृषि व्यापार तथा उद्योग के विकास में सहयोग देना।
  • शिक्षा, तकनीकी ज्ञान, वैज्ञानिक क्षेत्र में पारस्परिक सहयोग को बढ़ावा देना।

एनआईए (NIA) क्या है

आसियान की संस्थाएं (ASEAN Institutions)

आसियान में सदस्य देशों के नामों को अंग्रेजी भाषा में लिखने पर उनके पहले अक्षर के क्रम के अनुसार प्रतिवर्ष इसकी अध्यक्षता परिवर्तित होती रहती है | इसके चार्टर के अनुसार इसका शिखर सम्मेलन एक वर्ष में दो बार आयोजित किया जाता है |

आसियान शिखर सम्मेलन- यह आसियान की सबसे बड़ी संस्था है इसी के द्वारा नीतियों और उद्देश्यों को तय किया जाता है |

आसियान मंत्रालयिक परिषद- आसियान शिखर सम्मेलन को सहयोग देने के लिये चार मंत्रालयिक निकायों का निर्माण किया गया है |

  • आसियान समन्वय परिषद (एसीसी)
  • आसियान राजनीतिक-सुरक्षा समुदाय परिषद
  • आसियान आर्थिक समुदाय परिषद
  • आसियान सामाजिक-सांस्कृतिक समुदाय परिषद

जीएनपी (GNP) और एनएनपी (NNP) का फुल फॉर्म क्या है

आसियान के मंच (ASEAN Forum)

  • आसियान क्षेत्रीय मंच (एआरएफ)– यह सत्ताईस सदस्यीय बहुपक्षीय समूह है|
  • आसियान प्लस थ्री-  यह आसियान के दस सदस्यों, चीन, जापान और दक्षिण कोरिया को एक मंच पर लाता है |
  • पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन (ईएएस)– इसमें ऑस्ट्रेलिया, चीन, भारत, जापान, न्यूजीलैंड, रूस, दक्षिण कोरिया और संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्राध्यक्ष शामिल होते है |

आसियान का प्रभाव (ASEAN Effects)

  • आसियान के द्वारा विश्व की तीसरी सबसे बड़ी जनसंख्या का नेतृत्व करता है|
  • यह विश्व का सबसे बड़ा बाजार है|
  • यह एशिया की तीसरी और विश्व की छठीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था का प्रतिनिधित्व करता है|
  • इसके अंतर्गत मुक्त व्यापार समझौते (एफटीए) किए गए है, इसमें चीन, जापान, दक्षिण कोरिया, भारत, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के द्वारा समझौता किया गया है|

आसियान की आधिकारिक वेबसाइट (ASEAN Official Website)

आसियान की आधिकारिक वेबसाइट https://asean.org है, अधिक जानकारी के लिए आप इस पर विजिट कर सकते है|

नीति आयोग (NITI Aayog) क्या है