धनतेरस (Dhanteras) पर क्या खरीदें | धनतेरस पर धन प्राप्ति के उपाय | महत्व | पूरी जानकारी

धनतेरस (Dhanteras) से संबधित जानकारी

कार्तिक माह के कृष्ण पक्ष की त्रयोदसी को धनतेरस का त्यौहार मनाया जाता है| दिवाली के दो दिन पहले धनतेरस का त्योहार आता है | धनतेरस के दिन पीतल के बर्तन की ख़रीददारी करना शुभ माना जाता है, इस दिन आप जो भी वस्तु खरीदते है उसका आपको तेरह गुना फल प्राप्त होता है इस दिन खरीदारी करना शुभ होता है | इस दिन माता लक्ष्मी, कुबेर जी तथा गणेश जी की पूजा की जाती है जिसके फल स्वरूप घर में सुख, शांति तथा समृद्धि आती है| इस दिन वस्तुओ की खरीददारी सोच-समझ कर करनी चाहिए, क्योकि इसमें से कुछ वस्तुए शुभ फल देने वाली होती है तथा कुछ वस्तुए अशुभ फल देने वाली होती है, यहाँ पर आपको “धनतेरस (Dhanteras) पर क्या खरीदें, धनतेरस पर धन प्राप्ति के उपाय, महत्व,पूरी जानकारी” उपलब्ध कराई गयी है |

भैया दूज (Bhai Dooj) क्या है 

धनतेरस क्या है? (What is Dhanteras)

धनतेरस के दिन भगवान धन्वंतरि का जन्म हुआ था| भगवान धन्वन्तरि समुद्र मंथन के दौरान हाथ में अमृत का कलश तथा आयुर्वेद लेकर प्रकट हुए थे, इसलिए इस दिन को धनतेरस के नाम से जाना जाता है, तथा भगवान धन्वंतरि के हाथ में कलश होने के कारण इस दिन बर्तन खरीदने की प्रथा का शुभारंभ हुआ था| इस दिन धन में तेरह गुना की वृद्धि होती है| भगवान धन्वंतरि के हाथ में आयुर्वेद होने के कारण इन्हे आयुर्वेद का जनक कहा जाता है | भारत सरकार के द्वारा धनतेरस के दिन को राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस के रूप में मनाने का निर्णय किया गया है |

Diwali Holidays List in Hindi: दिवाली अवकाश की सूंची यहां देखें

धनतेरस के दिन क्या ख़रीदे (What Did You Buy On The Day Of Dhanteras)

धनतेरस के दिन बहुत से लोगों को जानकारी के अभाव के कारण सही वस्तु नहीं खरीद पाते है, लोगों को समझ में नहीं आता है कि किस वस्तु की खरीददारी की जाये इसके विषय में बताया जा रहा है:-

  • धनतेरस के दिन माता सरस्वती का स्फटिक का श्रीयंत्र खरीदना चाहिए| इस दिन यह यन्त्र खरीदने से घर में समृद्धि आती है, तथा माता सरस्वती का आशीर्वाद बना रहता है इस श्री यन्त्र की पूजा दिवाली के दिन माता लक्ष्मी तथा भगवान गणेश के साथ की जाती है|
  • इस दिन चांदी के सिक्के तथा चांदी के बर्तन खरीदने चाहिए, चांदी के सिक्के पर लक्ष्मी तथा गणेश का चित्र बना होना चाहिए तथा इस सिक्के को दीवाली की पूजा के समय पूजा में रखना चाहिए|
  • धनतेरस के दिन झाड़ू खरीदना शुभ होता है, झाड़ू खरीदने से घर की नकारात्मक ऊर्जा बाहर चली जाती है तथा सकारात्मक ऊर्जा प्रवेश करती है इस नयी झाड़ू का प्रयोग छोटी दिवाली के दिन करना चाहिए|
  • इस दिन पीतल के बर्तन खरीदना भी शुभ माना जाता है, कहा जाता है भगवान धन्वंतरि पीतल का कलश लेकर प्रकट हुए थे इस लिए पीतल उनकी प्रिय धातु है|
  • इस दिन ग्यारह गोमती चक्र खरीदना शुभ होता है इस गोमती चक्र को पीले रंग के कपडे में बांध कर तिजोरी या जहा पैसे रखते हो उस अलमारी  में रख देना चाहिए इसके प्रभाव से परिवार के सभी सदस्यों का स्वास्थ्य अच्छा रहता है, तथा परिवार की समृद्धि में वृद्धि होती है|
  • इस दिन माता लक्ष्मी तथा भगवान गणेश की चांदी या मिटटी की मूर्ति खरीदनी चाहिए| इसकी पूजा करने के बाद इसे तिजोरी में रख देना चाहिए तथा इन मूर्तियों की लम्बाई अंगूठे से अधिक नहीं होनी चाहिए |
  • धनतेरस के दिन धनिया के बीज खरीदना  भी शुभ होता है| दिवाली की पूजा में माता लक्ष्मी को अर्पित करके  कुछ बीजो को बो देना चाहिए तथा कुछ बीजो को तिजोरी में रख देना चाहिए |

गोवर्धन पूजा (Govardhan Puja) क्या है

धनतेरस पर धन प्राप्ति के उपाय (Ways to get money On the day of Dhanteras)

  • धनतेरस अथवा दीपावली की रात्रि को स्नान करने पीले रंग की धोती को धारण करने के बाद अपने सामने  सिद्ध लक्ष्मी यंत्र को स्थापित करके उत्तर दिशा की ओर मुंह करके बैठ कर भगवान विष्णु मंत्र का उच्चारण करना चाहिए तथा स्फटिक माला से नीचे लिखे मंत्र का 21 माला का जाप एक ही स्थान पर बैठ कर करे |  यह मंत्र अत्यंत फलदायी है|

“ऊँ श्रीं ह्रीं श्रीं ऐं ह्रीं श्रीं फट्”

  • धनतेरस के दिन संध्या काल में घर के ईशान कोण में गाय के घी का दिया जलना चाहिए थोड़ा सा केसर डाल कर तथा दिए में रुई की बत्ती के स्थान पर लाल रंग के धागे का प्रयोग करना चाहिए | इस उपाय का प्रयोग करने पर धन के आगमन का रास्ता बनता है |
  • धनतेरस के दिन कौड़ी खरीदना शुभ होता है| इससे धन की प्राप्ति होती है| धनतेरस की रात्रि कौड़ियो को केसर से रंग कर पीले रंग के कपडे में बांध कर विधि पूर्वक पूजन करना चाहिए तथा इसके बाद इसे तिजोरी में रख दे। जल्द ही  घर में धन का आगमन प्रारम्भ होगा |  
  • पुराने चांदी के सिक्के और कौड़ी व रूपये के साथ माता लक्ष्मी की पूजा करना चाहिए | पूजा केसर और हल्दी से करनी चाहिए | पूजा के पश्चात इन्हें तिजोरी में स्थापित कर दे | इससे धन वृद्धि होती है |
  • धनतेरस के दिन शाम के समय माता लक्ष्मी की विधि-विधान से पूजा करने के बाद माता लक्ष्मी के चरणों में सात लक्ष्मी कारक कौडिय़ां अर्पित करनी चाहिए, तथा मध्य रात्रि में इन कौडिय़ों  को घर के किसी कोने में गाड़ दें, इस उपाय के द्वारा जल्द ही आर्थिक उन्नति के योग बनने प्रारम्भ हो जायेंगे |
  • देशी घी में कमल गट्टे मिलाकर माता लक्ष्मी को प्रसाद चढ़ाने से व्यक्ति राजयोग की प्राप्ति होती है तथा 108 कमल गट्टों की माला बनाकर लक्ष्मी जी पर चढ़ाने से लक्ष्मी ठहरने लगी है इस कमल गट्टे की माला को घर में रखें जिससे धन में वृद्धि होगी|

दिवाली (Diwali) क्या है | क्यों मनाते है 

धनतेरस का महत्व (Importance of Dhanteras)

धनतेरस का पर्व कार्तिक माह के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी के दिन मनाया जाता है | धनतेरस का अर्थ धन तथा समृद्धि में तरह गुना वृद्धि होना होता है| हिन्दू धर्म में इस दिन का विशेष महत्व है| इस दिन भगवान गणेश, माता लक्ष्मी तथा कुबेर जी की पूजा की जाती है, यह पूजा दिवाली वाले दिन तक होती है| मान्यताओं के अनुसार इस दिन घर में नया सामान लाने से कुबेर जी का वास होता है तथा धन में वृद्धि होती है| इस दिन तेरह दिए जलाकर माता लक्ष्मी की पूजा की जाती है तथा  इस दिन सोना, चांदी तथा पीतल के बर्तन खरीदना शुभ होता है| समुद्र मंथन में भगवान धन्वन्तरि हाथ में पीतल का कलश लेकर प्रकट हुए थे| इसलिए पीतल धातु के बर्तन इस दिन खरीदता विशेष रूप से शुभ माना गया है| धनतेरस को धन प्राप्ति का दिन मानते है|

यहाँ पर आपको धनतेरस के विषय में तथा इस दिन पर क्या खरीदें, धनतेरस पर धन प्राप्ति के उपाय, इस दिन के महत्व के विषय में पूरी जानकारी जानकारी उपलब्ध कराई गयी है उम्मीद करता हू आपको पसंद आएगी |

करवाचौथ (Karwa chauth) क्या है