राशन कार्ड कितने प्रकार के होते हैं 2024 – जाने पूरी जानकारी

राशन कार्ड कितने प्रकार के होते हैं (How Many Types Of Ration Card in Hindi) : भारत सरकार द्वारा गरीबी रेखा के नीचे जीवनयापे करने वाले परिवारों को राशन प्रदान करती है। जिसमे उन्हें कुछ गेंहू, चावल, दाल, चीनी, आदि राशन का सामान प्रदान किया जाता है। तो आप सभी को राशन कार्ड के बारे में तो जानकारी होगी। लेकिन आपको बता दे कि राशन कार्ड कई प्रकार के होते है। आज हम आपको इस पोस्ट की मदद से Ration card kitne prakar ke hote hai के विषय में बताएंगे। दरअसल लाभार्थी को खाद्य विभाग द्वारा उनके पात्रता के अनुसार राशन कार्ड जारी करता है। और उसी के अनुसार ही उसका लाभ प्रदान किया जाता है।

यदि आप अपना राशन कार्ड बनवाना चाहते है, तो आपको राशन कार्ड कितने प्रकार के होते हैं के बारे में जानना बहुत ज़रूरी है। इसलिए आज हम आपको अपनी पोस्ट के माध्यम से राशन कार्ड कितने प्रकार के होते हैं और कौन कौन है। के बारे में विस्तार पूर्वक बताएंगे। इसलिए आप हमारे आर्टिकल को अंत तक ज़रूर पढ़े

राशन कार्ड कितने प्रकार के होते हैं ?

1.अंत्योदय राशन कार्ड Antyodaya Anna Yojana cards (AAY)

2.बीपीएल राशन कार्ड Below Poverty Line (BPL)

3.एपीएल राशन कार्ड Above Poverty Line (APL)

4.अन्नपूर्णा राशन कार्ड Annapoorna Yojana (AY)

5.प्राथमिकता राशन कार्ड Priority House Hold (PHH)

अंत्योदय राशन कार्ड क्या है

ये राशन कार्ड एनएफएसए के द्वारा जारी किये जाते है जिसको शॉर्टफ़ॉर्म में AAY अर्थात (Antyodaya Anna Yojana) राशन कार्ड भी कहते है। ये राशन कार्ड बेरोजगार, महिला एवं बुजुर्ग आर्थिक रूप से कमजोर है, या ऐसे व्यक्ति जिनकी आय नियमित न हो तो ऐसे परिवारों को इस कार्ड द्वारा राशन प्रदान किया जाता है। इस राशन कार्ड द्वारा एक परिवार को प्रतिमाह 35 किलो अनाज प्रदान किया जाता है।

बीपीएल राशन कार्ड क्या है

इस प्रकार के राशन कार्ड सार्वजनिक वितरण प्रणाली द्वारा जारी किये जाते है। जिसको शॉर्टफ़ॉर्म में (BPL) राशन कार्ड या Below Poverty Line कहते है। बीपीएल राशन की ये मात्रा अलग अलग राज्यों में अलग अलग हो सकती है। BPL राशन कार्ड पर एक परिवार को 10 से 20 किलो राशन प्रतिमाह प्रदान किया जाता है। अनाज की कीमत राज्य के अनुसार होती है।

एपीएल राशन कार्ड क्या है

ये राशन कार्ड भी सार्वजनिक वितरण प्रणाली द्वारा ही जारी किये जाते है। जिनको Above Poverty Line (APL) राशन कार्ड भी कहते है। ये राशन कार्ड गरीबी रेखा से ऊपर जीवनयापन करने वाले परिवारों के लोगों को प्रदान किया जाता है। एपीएल राशन कार्ड पर परिवार को 10 से 20 किलो राशन प्रतिमाह दिया जाता है। राशन की कीमत अलग अलग राज्य की केंद्र सरकार तय करती है।

अन्नपूर्णा राशन कार्ड क्या है

इस प्रकार के राशन कार्ड सार्वजनिक वितरण प्रणाली द्वारा जारी किये जाते है। इन कार्ड को Annapoorna Yojana (AY) राशन कार्ड कहते है। अन्नपूर्णा राशन कार्ड पर 10 किलो प्रतिमाह राशन कार्ड मिलता है। ये कार्ड गरीब एवं 65 वर्ष से ऊपर के वृद्ध लोगों को जारी किया जाता है। अलग अलग राज्य के अनुसार राशन की मात्रा एवं कीमत अलग अलग हो सकती है।

प्राथमिकता राशन कार्ड क्या है

ये राशन कार्ड एनएफएसए के द्वारा जारी किये जाते है। इन कार्ड को Priority Household (PHH) राशन कार्ड कहा जाता है। राज्य सरकार लक्षित सार्वजनिक वितरण प्रणाली (टीपीडीएस) के तहत प्राथमिकता वाले घरेलू परिवारों की पहचान करती हैं। प्राथमिकता राशन कार्ड पर 5 किलो राशन प्रति यूनिट प्रति माह मिलता है। इसमें चाँवल 3 रूपये प्रति किलो और गेँहू 2 रुपया प्रति किलो में दिया जाता है।

राशन कार्ड का उपयोग

1. राशन दुकान से खाद्य पदार्थ जिसमे गेहू, चावल, शक्कर तथा एलपीजी, केरोसेन खारिदने के लिए

2. बैंक अकाउंट खोलने के लिए

3. स्कूल-कॉलेज में

4. कोर्ट-कचेहरी में

5. मतदान कार्ड बनाने के लिए

6. मोबाइल सिम कार्ड खरीदने के लिए

7. पासपोर्ट बनाने के लिए

8. ड्राइविंग लाइसेंस के लिए

9. LPG कनेक्शन के लिए

10. Life Insurance निकालने के लिए

11. सरकारी और निजी कार्यालयों में

राशन कार्ड पात्रता नियम 2024

  • राशन कार्ड के नियम अनुसार राशन कार्ड बनवाने के लिए भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • राशन कार्ड हेतु आवेदन कर रहे व्यक्ति की उम्र 18 वर्ष या उससे अधिक होना चाहिए।
  • परिवार के 18 वर्ष से कम सदस्यों का नाम उनके माता – पिता के राशन कार्ड में शामिल होगा।
  • परिवार के मुखिया के नाम पर राशन कार्ड बनेगा।
  • परिवार के अन्य सभी सदस्यों का नाम राशन कार्ड में शामिल होगा।
  • जिन सदस्यों का नाम राशन कार्ड में शामिल किया जा रहा है, उनका मुखिया से नजदीकी सम्बन्ध होना चाहिए।
  • आवेदक के नाम पर किसी अन्य राज्य का राशन कार्ड नहीं होना चाहिए।
  • राशन कार्ड में शामिल किए रहे सदस्यों का पहले से राशन कार्ड में शामिल नहीं होना चाहिए।
  • आवेदक को उनके पात्रता के अनुसार ही बीपीएल, एपीएल, अंत्योदय या अन्नपूर्णा राशन कार्ड जारी किये जायेंगे।
  • राशन कार्ड जारी होने के उपरांत वेरिफिकेशन प्रक्रिया में अगर आवेदक अपात्र पाया जाता है, तब खाद्य विभाग द्वारा कभी भी उनका राशन कार्ड निरस्त किया जा सकता है।
  • बीपीएल राशन कार्ड प्राप्त करने के लिए आवेदक का बीपीएल सूची में नाम होना आवश्यक है।

आवश्यक दस्तावेज 2024

  • पासपोर्ट साइज़ की 3 फोटोग्राफ।
  • आधार कार्ड की फोटोकॉपी।
  • पैन कार्ड की फोटोकॉपी।
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • मतदाता पहचान पत्र।
  • वर्तमान की टेलीफ़ोन बिल जो आवेदक के नाम पर हो।
  • एलपीजी कार्ड जो आवेदक के नाम पर हो।
  • मनरेगा जॉब कार्ड की फोटोकॉपी।
  • सरकार या सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों द्वारा जारी पहचान पत्र।

राशन कार्ड बनवाने के लिए आवेदन

  • सबसे पहले राशन कार्ड की अधिकारित वेबसाइट आवेदन फॉर्म डाउनलोड करें।
  • आवेदन फॉर्म डाउनलोड होने के बाद इसे प्रिंट कर लें।
  • अब आवेदक का पूरा विवरण के साथ फॉर्म को ध्यान से भरें।
  • आवेदन फॉर्म में परिवार के सभी सदस्यों का विवरण भी ध्यान से भरना है।
  • फॉर्म को अच्छे से भरने के पश्चात् नीचे आवेदक का हस्ताक्षर या अँगूठे का निशान लगाएं।
  • अब आवश्यक दस्तावेज की फोटोकॉपी फॉर्म के साथ अटैच करें।
  • अब इसे सम्बंधित विभाग में अधिकारी या निर्धारित राशन दुकान में जमा कर दें।
  • अगर आप ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है तब इस फॉर्म को CSC सेंटर यानि ग्राहक सेवा केंद्र में जाकर जमा कर दें।
  • आपके आवेदन की जाँच उपरांत राशन कार्ड जारी हो जायेगा।

conclusion

उम्मीद है की आपको हमारे द्वारा राशन कार्ड कितने प्रकार के होते हैं, की पूरी जानकारी स्टेप by स्टेप समझ आई होगी। हमारे आर्टिकल के द्वारा आप आसानी से राशन कार्ड के प्रकार जान सकते है। ओस अपनी पात्रता के अनुसार अपना अपना राशन कार्ड बनवा सकते है।