एक जिला एक उत्पाद योजना क्या है | पात्रता | योग्यता और लाभ | One District One Product Scheme

राज्य के जनपदों में पारम्परिक शिल्प एवं लघुउद्ययमो को स्थापित कर उसमे संरक्षण देने के लिए एक जिला एक उत्पाद योजना का आरम्भ किया गया है | इस योजना का आरम्भ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्य नाथ जी द्वारा 24 जनवरी 2018 को किया गया | इस योजना के अंतर्गत राज्य के प्रत्येक जिले का अपना एक प्रोडक्ट होगा, और यह प्रोडक्ट उस जिले की पहचान बनेगा | इस बिज़नेस को सूक्ष्म, लघु, एवं मध्यम उत्पाद श्रेणी में रखा है | इस योजना के कार्यन्यान्वित होने से राज्य के युवा बेरोजगारों को रोजगार पाने में भी सहायता प्रदान होगी |

यदि आप भी उत्तर प्रदेश राज्य के नागरिक है, और इस योजना के माध्यम से रोजगार प्राप्त करना चाहते है, तो उसके लिए आपको योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन करना होगा | इस पोस्ट में आपको एक जिला एक उत्पाद योजनाक्या है (One District One Product Scheme), तथा योजना में ऑनलाइन आवेदन कैसे करे, इसके अलावा योजना के लाभ, पात्रता और योग्यता के बारे में जानकारी दी जा रही है |

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना

उत्तर प्रदेश एक जिला एक उत्पाद योजना (One District One Product Scheme Uttar Pradesh)

इस योजना के कार्यवन्तित होने से उत्तर प्रदेश राज्य के तक़रीबन 75 जिलों में 5 वर्षो के अंतराल में 25 लाख बेरोजगारों को रोजगार मिला है | इस योजना में अब तक 89 हजार करोड़ से अधिक उत्पादों का निर्यात छोटे, लघु, और मध्यम बिजनेस के तौर पर किया जा चुका है | उत्तर प्रदेश में कई छोटे उद्योग है, जिन्हे तैयार कर देश विदेश में निर्यात किया जा रहा है | जिसमे लखनवी कढ़ाई के कपड़े, विशेष चावल और कांच का सामान मुख्य उत्पाद है | इस तरह के सभी उत्पादों को गांवो के छोटे-छोटे कलाकारों द्वारा तैयार किया जाता है | राज्य सरकार का उद्देश्य इन सभी कलाकारों को रोजगार देना है, जो अपने विशेष कला के माध्यम से चीजो को तैयार करने के लिए प्रसिद्ध है |

देश के 17 राज्यों में खोले जायेंगे  54 इनक्यूबेशन केंद्र

केंद्र सरकार द्वारा देश के 35 राज्यों एवं केंद्र शासित राज्यों के तक़रीबन 707 जिलों को उत्पादन करने के लिए केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय द्वारा स्वीकृति दे दी गई है | इसके लिए 17 राज्यों में 50 से अधिक इनक्यूबेशन केन्द्रो की स्थापना के लिए मंजूरी प्राप्त हो चुकी है | यह 17 राज्य इस प्रकार है- मध्य प्रदेश, केरला, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, राजस्थान, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, तमिलनाडु, छत्तीसगढ़, जम्मू कश्मीर, कर्नाटका, सिक्किम एवं उत्तराखंड आदि | इन 17 राज्यों में 54 कॉमन इनक्यूबेशन सेंटर को स्थापित किया गया है, जिसके माध्यम से निम्न एवं उच्च उद्यमियों को विभिन्न प्रकार की सहायता प्राप्त होगी | इन 491 जिलों में स्थापित किये गए केन्द्रो में तकनीकी जानकारी देने के लिए विशेषज्ञों को नियुक्त किया गया है |

एक जिला एक उत्पादन
योजना का नामOne District One Product
योजना का आरम्भमुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी द्वारा
योजना तिथि24 जनवरी 2018
विभागसूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम तथा निर्यात प्रोत्साहन विभाग
उद्देश्यजिले के छोटे, मध्यम और परंपरागत उद्योगो का विकास करना
Official Websitehttp://odopup.in/hi

UP Free Tablet Yojana

एक जनपद एक उत्पाद योजना का उद्देश्य (One District One Product Scheme Purpose)

राज्य सरकार द्वारा आरम्भ की गई इस योजना का मुख्य उद्देश्य प्रत्येक जनपद के हस्तकला, हस्तशिल्प एवं विशिष्ट हुनर वाले कलाकारों को विकसित करना है, जिससे जिले में कच्चे माल, डिज़ाइन प्रशिक्षण, तकनीकी उत्पादन के लिए बाजार उपलब्ध कराया जा सकेगा | इस योजना का लाभ प्राप्त कर जिले के छोटे-छोटे कारीगरों को स्थानीय स्तर पर रोजगार प्राप्त हो सकेगा, और उन्हें रोजगार के लिए अपना घर छोड़कर अन्य जगहों पर निर्भर नहीं होना पड़ेगा | One District One Product योजना के माध्यम से प्रदेश के सभी जनपदों में मौजूद कलाकारों को प्रशिक्षण देकर आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी |

एक जिला एक उत्पाद योजना 2022 के मुख्य तथ्य (One District One Product Scheme Key Facts)

  • एक जिला एक उत्पाद योजना के कार्यवन्तित से राज्य के छोटे-छोटे जिलों का नाम भी देश प्रदेश में प्रसिद्ध होगा, जिससे देश का युवा भी अपने हुनर के प्रति आकर्षित होकर रोजगार प्राप्त कर सकेगा |
  • इस योजना के संचालन से राज्य के जिलों में मौजूद छोटे, मध्यम और पारंपरिक उधोगों में वृध्दि देखने को मिलेगी |
  • इस योजना के अंतर्गत युवाओ को नई टेक्नोलॉजी का प्रयोग करना सिखाया जायेगा, और कारीगरों को प्रशिक्षण दिया जायेगा, जिससे वह बाजार में मौजूद दूसरे उत्पादों की बराबरी कर पाने उधोग को बढ़ा सकेंगे |
  • प्रत्येक जनपद के उत्पादन का चयन वहाँ की उपलब्धता के आधार पर किया जायेगा, जैसे :- आगरा में चमड़े की उपलब्धता है, और फिरोजाबाद में काँच की चुड़ियो की तथा इलाहाबाद में अमरुद फ्रूट प्रॉसेसिंग की |
  • इस योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में विशिष्ट पारंपरिक उत्पाद औद्योगिक केंद्रों को स्थापित किया जायेगा |

उत्तर प्रदेश एक जिला एक उत्पाद योजना के लाभ (Uttar Pradesh One District One Product Scheme Benefits)

  • इस योजना से तक़रीबन 25 लाख बेरोजगार युवाओ को रोजगार प्राप्त होगा, जिससे राज्य के सकल घरेलू उत्पाद में 2% GDP की बढ़ोतरी होगी |
  • प्रदेश के छोटे एवं स्थानीय कारोबारियों, शिल्पियों, बुनकरों एवं उद्यमियों को इस योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा |
  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा आरम्भ की गई यह योजना राज्य के 75 जिलों के शिल्पियों, बुनकरों एवं उद्यमियों के लिए मील का पत्थर साबित होगी |
  • इस योजना के सफल कार्यान्वयन होने से इन सभी छोटे, बड़े उत्पादों को अंतर्राष्ट्रीय मान्यता प्राप्त होगी | इसके साथ यह उत्पाद यूपी जा एक ब्रांड बन जायेगा |
  • इस योजना के लाभार्थियों को सहज ऋण, विपणन की सुविधा, सामान्य सुविधा केंद्र की स्थापना, अनुदान की उपलब्धता, आधुनिक तकनीक एवं प्रशिक्षण आदि से सम्बंधित सुविधाएं भी प्रदान की जाएगी |

UP CM Bal Seva Yojana 

एक जनपद एक उत्पाद लाभ राशि योजना में ऑनलाइन आवेदन कैसे करे (One District One Product Benefit Scheme)

  • सबसे पहले आपको योजना की आधिकारिक वेबसाइट http://odopup.in/hi/ पर जाना होता है |
  • आपके सामने वेबसाइट का Home Page खुलकर आ जायेगा |
  • इस होम पेज में आपको ऑनलाइन आवेदन के टैब पर क्लिक करना होगा |
  • इसके बाद आपको एक जनपद एक उत्पाद के विकल्प पर क्लिक करना होगा |
  • आपके सामने नया पेज खुल कर आ जाता है |
  • इस पेज में आप एक जनपद एक उत्पाद मार्जिन मनी योजना के लिंक पर क्लिक कर दे |
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल का आ जायेगा |
  • इस पेज में आपको New Registration के विकल्प पर क्लिक करना होगा |
  • आप एक पेज में पहुंच जायेगे |
  • यह आपका आवेदन फॉर्म होगा |
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गई सभी जानकारी को ठीक-ठीक भरना होगा |
  • सभी जानकारियों को ठीक तरह से भरने के बाद नीचे दिए गए Submit के बटन पर क्लिक करना होगा |
  • इस तरह से आपका योजना में ऑनलाइन आवेदन सफल हो जायेगा |

उत्तर प्रदेश में कुल कितने जिले है