दीनदयाल अंत्योदय योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन | राष्‍ट्रीय शहरी आजीविका मिशन | DDAY Registration Online

देश में बेरोजगारी की समस्या से हम सभी अच्छी तरह से वाकिफ है, हालाँकि बेरोजगारी की कम करनें के लिए सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार की योजनायें चलायी जा रही है |  इन्ही योजनाओं में से एक दीनदयाल अंत्योदय योजना (DeendayalAntyodayaYojana) है | सरकार द्वारा इस योजना की शुरुआत ग्रामीण तथा शहरी क्षेत्रों में निवास करनें वाले लोगो के किये की गयी है | इस योजना का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण तथा शहरी क्षेत्रों के निर्धन गरीब लोगो को कौशल प्रशिक्षण के माध्यम से रोजगार उपलब्ध कराना है |

आपको बता दें, कि यह स्कीम राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन (NULM)और राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (NRLM) का एकीकरण है। इस स्कीम के माध्यम से सरकार मेक इन इंडिया के अंतर्गत गांवों और शहरों में रहनें वाले निर्धन लोगो का स्किल डेवलपमेंट करनें का कार्य करेगी | दीनदयाल अंत्योदय योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन (DDAY Registration Online) करके इसका लाभ प्राप्त कर सकते है |

बीपीएल (BPL) राशन कार्ड क्या है 

दीनदयाल अंत्योदय योजना क्या है (Deendayal Antyodaya Scheme)

दीनदयाल अंत्योदय योजना भारत के प्रधानमंत्री जी के द्वारा 25 सितंबर, 2014 को शुरू की गयी थी | इससे पहले इस योजना को स्वर्ण जयंती स्वरोजगार योजना के जाना जाता था, जिसे वर्ष 2011 में शुरू किया गया था | आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस स्कीम 2 घटकों में विभाजित किया गया है | जिसमें से पहला घटक ग्रामीण भारत के लिए और दूसरा घटक शहरी भारत के लिए है |

इस स्कीम के अंतर्गत ग्रामीण भारत के लिए क्रियान्यवन ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा किया जाएगा जबकि शहरी भारत के लिए  क्रियान्यवनआवास और शहरी गरीबी उपशमन मंत्रालय (एचयूपीए) द्वारा किया जायेगा | इसके अलावा ग्रामीण घटक को राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन और शहरी घटक को राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशनका नाम दिया गया है, और इन दोनों मिशन को अलग-अलग मंत्रालयों द्वारा संचालित किया जायेगा |

आय प्रमाण पत्र (Income Certificate) क्या है

राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन (National Urban Livelihoods Mission)

दीनदयाल अंत्योदय योजना के राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन तहत सरकार शहरी क्षेत्रों में एसएचजी संवर्धन, ट्रेनिंग सेंटर्स और जिन लोगो के पास रहनें के लिए घर नही है, उनके लिए स्थायी रूप से रहनें के लिए आश्रमों की व्यवस्था की जाएगी | यहाँ तक कि सड़को पर कूड़ा-कचरा आदि बीनने वाले लोगो के लिए रोज़गार के अवसर उपलब्ध करानें के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाये जायेंगे | सेंट्रल गवर्नमेंट द्वारा राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के तहत 4 हजार से अधिक शहरों और कस्बों को शामिल करनें का लक्ष्य निर्धारित किया है |    

राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (National Rural Livelihood Mission)

राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में निवास करनें वाले लोगो की इनकम बढ़ानें के लिए स्किल ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी | इस घटक के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों के 10 लाख से अधिक लोगो को कौशल प्रशिक्षण देकर उन्हें रोजगार उपलब्ध कराया जायेगा, ताकि वह आसानी से अपना जीवन निर्वाह कर सके |

आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि इस मिशन को वर्ष  2011 में शुरू के इसे 5 केन्‍द्र शासित प्रदेशों के 586 जिलों के साथ ही राज्देश के 29 राज्यों में लागू किया गया है। इस मिशन द्वारा  वर्ष 2017 से 18 के बीच लगभग सवा लाख ग्रामीण युवकों को स्किल डेवेलपमेंट की ट्रेनिंग दी गयी थी, जिसमें से लगभग 70 हजार से अधिक युवाओं को आधिक आय वाले स्थानों पर रोजगार प्राप्त हुआ |

दीनदयाल अंत्योदय योजना का उद्देश्य (Purpose Of Deendayal Antyodaya Scheme)

दरअसल सरकार वर्ष 2022 तक गांवों और शहरों में रहने वाले निर्धन परिवारों की आय दोगुना करना चाहती है, और अपनें इस उद्देश्य को पूरा करनें के लिए सरकार इस स्कीम पर अपना पूरा ध्यान केन्द्रित कर रही है |  हम सभी जानते है, कि आज भी शहरों और गांवों में ऐसे लोगो की संख्या बहुत अधिक है, जो दैनिक मजदूरी कर अपना जीवन निर्वाह कर रहे है औए इसके लिए उन्हें कई जोखिम भरे कार्य करनें पड़ते है | सरकार इस स्कीम के माध्यम से ऐसे निर्धन परिवारों की निर्धनता और जोखिम को कम करने के लिए उन्हें स्किल ट्रेनिंग देकर रोजगार के अवसर प्राप्त करनें हेतु सक्षम बनाना है |

दीनदयाल अंत्योदय योजना का परिचालन (Operation Of DeendayalAntyodayaScheme)

इस स्कीम के तहत सरकार द्वारा की गई पहल इस प्रकार है-

  • दीनदयाल अंत्योदय योजना के तहत लगभग एक हजार से अधिक स्थायी घरों का निर्माण किया गया गया है, जिसमें 60 हजार से अधिक लोग निवास कर सकते है |
  • देश में अभी तक लगभग 16 लाख से अधिक सड़क विक्रेताओं (Street Vendors) की पहचान कर उन्हें पहचान पत्र (Identity Card) उपलब्ध कराये गये है|    
  • 10 लाख से अधिक लोगो को इस स्कीम के अंतर्गत प्रशिक्षित करनें के पश्चात इनमें से लगभग 5 लाख लोगो को रोजगार दिया गया है | 
  • इस योजना के अंतर्गत लोगो को प्रशिक्षित करनें के पश्चात लगभग 8 लाख से अधिक लोगो को बैंकों के माध्यम से ऋण प्रदान किया गया है, जिसमें उन्हें सब्सिडी दी जाएगी |
  • लगभग 34 लाख से अधिक शहरी महिलाओं कोस्वयं सहायता समूहों (Self help group) में शामिल किया गया है |

अन्त्योदय योजना के लिए 500 करोड़ रुपये का प्रावधान (Provision of Rs 500 Crore for Antyodaya Scheme)

सरकार द्वारा इस योजना के लिए पांच सौ करोड़ (Five Hundred Crore) रुपये का प्रावधान किया है। एनआरएलएम अर्थात राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत स्वयं से संचालित सहायता समूहों के माध्यम से 6 सौ जिलों में लगभग 7 करोड़ ग्रामीण गरीब परिवारों को शामिल करनें के लिए रूपरेखा तैयार की गयी है |

नरेगा जॉब कार्ड कैसे बनवाएं 

दीनदयाल योजना हेतु पात्रता एवं डाक्यूमेंट्स (Eligibility & Documents For Scheme)

इस योजना का लाभ सिर्फ भारत के स्थायी निवासी प्राप्त कर सकते है | 

दीनदयाल अंत्योदय योजना में ऑनलाइन अप्लाई कैसे करे (How to Apply Online Deendayal Antyodaya Scheme)

भारत में निवास करनें वाले ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के लोग इस स्कीम के अंतर्गत आवेदन कर सकते है, इसका प्रोसेस इस प्रकार है-

  • आवेदक को सबसे पहले स्कीम की अधिकारिक वेबसाइट https://aajeevika.gov.in/पर जाना होगा आप चाहे तो इस लिंक्स https://aajeevika.gov.in/en/member से डायरेक्ट भी जा सकते है |
  • अब आपके सामनें Home Page ओपन होगा, यहाँ आपको Login के आप्शन पर क्लिक करना होगा |
  • अब आपके सामनें एक फॉर्म ओपन होगा, इस फॉर्म के नीचे रजिस्टर का आप्शन दिखाई देगा, आपको इसआप्शन पर क्लिक करना होगा |
  • अब आपके सामनें रजिस्ट्रेशन फॉर्म ओपन होगा, जिसमें आपको इस फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी दर्ज कर Create New Account पर क्लिक करना होगा |
  • इसके पश्चात आप इसमें लॉगइन कर नौकरी के लिए अप्लाई कर सकते है | 

ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट क्या है