बीसी सखी योजना का आवेदन कैसे करें? | दस्तावेज | UP BC Sakhi Yojana Online Registration 2022

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य की महिलाओ को लाभ पहुंचाने के लिए बैंकिंग संवाददाता सखी योजना का आरंभ किया है | 22 मई 2020 को प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने इस योजना का शुभारंभ किया | इस योजना के तहत राज्य की महिलाओ को प्रदेश सरकार रोजगार के अवसर प्रदान करेगी, जिससे उन्हें अपने मन मुताबिक रोजगार को करने में आसानी होगी | उत्तर प्रदेश सरकार ने योजना के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकिंग कॉरेस्पॉन्डेंट सखी को तैनात करने का निर्णय लिया है, जिससे अब ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओ को बैंक की यात्रा नहीं करनी होगी, क्योकि इन सखियों द्वारा ही उन्हें घर पर पैसे डिलीवर कर दिए जायेंगे |

इस लेख में हम आपको बीसी सखी का आवेदन कैसे करें (UP BC Sakhi Yojana Online Registration 2022), तथा योजना में आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज के बारे में जानकारी दी जा रही है |

यूपी फ्री लैपटॉप योजना

उत्तर प्रदेश बैंकिंग संवाददाता सखी योजना (UP Sakhi Correspondent Banking Scheme)

इस योजना के अंतर्गत राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाली महिलाओ को डिजिटल मोड के द्वारा बैंकिंग सेवाएं उपलब्ध कराई जाएगी, जिससे वह अपने पैसो के लेन- देन के आलावा और भी कई तरह के कार्यो को आसानी से कर सकेंगी | इस योजना के आने से ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगो को सुविधाएं होगी, साथ ही महिलाओ को रोजगार का अवसर भी प्राप्त होगा | यूपी सखी योजना में महिलाओ को कमाई वाले कामो को करने के लिए मदद दी जाती है |

इस बैंकिंग कॉरेस्पॉन्डेंट सखी योजना में महिलाओ को राज्य सरकार द्वारा प्रति माह 4 हज़ार रूपए कि राशि 6 महीने तक सहायता के तौर पर उपलब्ध कराई जाती है | इसके अतिरिक्त बैंक से लेन-देन करने पर भी उन्हें बैंक द्वारा कमीशन प्राप्त होता है, जिससे उन्हें प्रति माह निश्चित तौर पर आय प्राप्त होती है |

बीसी सखी योजना में महिलाओ की तैनाती (BC Sakhi Scheme Women Deployment)

राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले नागरिको को बैंकिंग कि सुविधा प्रदान करने हेतु यूपी बैंकिंग संवाददाता सखी योजना का आरम्भ किया गया है | योजना के तहत गावो में स्थित प्रत्येक घर तक बैंकिंग की सुविधाएं पहुँचायी जाएँगी | इस बैंकिंग सुविधा का संचालन सखी द्वारा किया जायेगा | योजना के पहले चरण में प्रदेश के 682 में से 640 ग्राम पंचायतो में सखियों की तैनाती की जाएगी | जिसमे उन्हें प्रशिक्षण दिया जायेगा, प्रत्येक ग्राम से एक महिला को सखी के तौर पर प्रशिक्षित किया जायेगा | जो प्रशिक्षित होकर गांव के नागरिको को बैंक से जुड़ी अनेक प्रकार की जानकारी देने के साथ- साथ उन्हें सुविधाए भी उपलब्ध कराएगी |

  • यूपी सखी योजना के अंतर्गत सभी ग्रामो की चिन्हित महिलाओ को रूरल सेल्फ एंप्लॉयमेंट ट्रेंनिंग इंस्टीट्यूट द्वारा 6 दिन का प्रशिक्षण दिया जायेगा, जिसके बाद उन्हें परीक्षा देनी होगी, और परीक्षा के पश्चात् महिलाओ को प्रमाण पत्र उपलब्ध कराया जायेगा | जिसके बाद वह अपने गांव में जाकर वहा के लोगो को बैंकिंग कि सुविधा देंगी |
  • योजना के तहत 30-30 महिलाओ के बैच को तैयार किया जायेगा, जिसके बाद उन्हें बैंकिग से जुड़े अन्य सॉफ्टवेयर के बारे में जानकारी देकर प्रशिक्षित किया जायेगा | इसके आलावा उन्हें गूगल और एटीएम का इस्तेमाल करना भी सिखाया जायेगा |
  • प्रशिक्षित महिलाओ को सखी के रूप में कार्य करने के लिए सरकार द्वारा 4000 रूपए कि राशि प्रति माह दी जाएगी | इसके अतिरिक्त अच्छा काम करने वाली सखी को प्रोत्साहन राशि भी दी जाएगी | इस योजना का लाभ प्राप्त कर महिलाएं आत्मनिर्भर बनेंगी |
यूपी बैंकिंग संवाददाता सखी योजना के मुख्य तथ्य
योजना का नामयूपी बैंकिंग संवाददाता सखी योजना
योजना का आरम्भमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा
राज्यउत्तर प्रदेश
लाभार्थीयूपी राज्य की ग्रामीण महिलाए
उद्देश्यमहिलाओ को रोजगार प्रदान करना
आवेदन प्रकारUP BC Sakhi Mobile App

यूपी सखी योजना में दी जाने वाली सैलरी (UP Sakhi Yojana Salary)

  • योजना के तहत आरम्भ के 6 माह तक सखी को 4000 रूपए की राशि प्रतिमाह दी जाएगी |
  • बैंक संबंधित उपकरण को खरीदने हेतु अतिरिक्त 50000 रूपए दिए जायेंगे |
  • इसके अतिरिक्त बैंकिंग कार्यो में कमीशन भी प्राप्त होगा |
  • 6 माह पूर्ण हो जाने के पश्चात कमीशन के माध्यम से कमाई होगी |

यूपी बीसी सखी योजना के तहत किये जाने वाले कार्य (UP BC Sakhi Yojana Work)

  • जनधन सेवाएं उपलब्ध कराना |
  • ग्रामीण लोगो को लोन के बारे में जानकारी देना और लोन मुहैया कराना |
  • लोन की वसूली करना |
  • गांव के प्रत्येक नागरिक के घर- घर जाकर बैंक खाते से जमा व् निकासी करवाना |
  • समूह के सदस्यों को स्वयं सहायता की सेवाएं प्रदान करना |

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना

बीसी सखी योजना में कार्य करने की पात्रता (BC Sakhi Scheme Work Eligibility)

  • योजना में केवल उत्तर प्रदेश राज्य की महिलाओ को शामिल किया गया है |
  • महिला आवेदक 10वी उत्तीर्ण हो |
  • बैंकिंग सेवाओं को समझने में सक्षम हो |
  • महिला को पैसो का लेन-देन करना ठीक से आता हो |
  • इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस का इस्तेमाल करना आता हो |
  • यूपी सखी योजना में बैंकिंग का काम-काज कर सकने में सक्षम महिलाओ का चयन किया जायेगा |

यूपी बीसी सखी योजना में आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज (UP BC Sakhi Yojana Documents Required)

यूपी बैंकिंग संवाददाता सखी योजना में आवेदन प्रक्रिया (UP Banking Correspondent Sakhi Yojana Registration Process)

  • यूपी सखी योजना में आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको अपने स्मार्ट फ़ोन के प्ले स्टोर में जाना होता है |
  • प्ले स्टोर के सर्च बॉक्स में आपको BC Sakhi App को सर्च करना होता है |
  • आपके सामने इस तरह का इंटरफ़ेस खुलकर आ जाता है |
  • इसमें आपको डाउनलोड के बटन पर क्लिक करके एप को डाउनलोड कर लेना है |
  • एप डाउनलोड के बाद उसे Install कर खोल ले |
  • आपके सामने एप का Home Page खुलकर आ जाता है |
  • इस होम पेज में आप अपना मोबाइल नंबर दर्ज कर लॉगिन के बटन पर क्लिक करे |
  • आपके मोबाइल नंबर पर एक 6 अंक वाला ओटीपी आता है, जिसे दिए गए बॉक्स में दर्ज करना होता है |
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर दिशा-निर्देश खुलकर आ जाएंगे | आपको इन निर्दशों को ध्यान से पढ़कर नेक्स्ट के विकल्प पर क्लिक करना होता है |
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाता है, इसमें आपको सबसे पहले प्रोफाइल पर क्लिक करना होता है | प्रोफाइल पर आपको पूछी गई सभी जानकारियों को ठीक तरह से भरना होता है |
  • सभी जानकारियों को ठीक तरह से भरने के बाद सबमिट पर क्लिक कर दे |
  • इसी तरह से आप आगे दी गई जानकारियों को भरते हुए सब्मिट पर क्लिक कर आगे बढ़ते जाए | जब आप सभी भागो को ठीक तरह से भर लेते है, उसके बाद आपको संबंधित दस्तावेजों को स्कैन कर अपलोड करना होता है |
  • इसके बाद आपको यहाँ पर कुछ साधारण प्रश्नो के जवाब देने होते है, यह सभी प्रश्न बहुविकल्पीय होते है| इसमें आपसे हिंदी व्याकरण, अंग्रेजी और गणित के प्रश्न पूछे जाते है |
  • आपका आवेदन सफल हो जाने पर रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर मेसेज कर सूचित कर दिया जाता है, तथा जो उम्मीदवार चयनित नहीं हो पाते है, उन्हें एप द्वारा सूचना मिल जाती है |

यूपी निःशुल्क बोरिंग योजना