e Uparjan Online Registration MP | ई उपार्जन किसान पोर्टल @mpeuparjan.nic.in

भारत सरकार नें 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करनें का लक्ष्य निर्धारित किया है | इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार द्वारा किसानों के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाये लांच की जा रही है | यहाँ तक कि राज्य सरकारें भी किसानों के हितों के लिए सराहनीय कदम उठा रही हैं | इसी क्रम में मध्य प्रदेश सरकार नें राज्य के किसान भाईयों के हित में एमपी ई उपार्जन पोर्टल का शुभारम्भ किया है |

इस पोर्टल की सहायता से किसान रबी फसल के लिए ऑनलाइन पंजीयन फॉर्म भरनें के साथ ही अपनी फसल की न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) 2021-21 सूची भी देख सकते हैं | e Uparjan Online Registration MP, ई उपार्जन किसान पोर्टल @mpeuparjan.nic.in के बारें में आपको यहाँ पूरी जानकारी विस्तार से दी जा रही है |

पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना

एमपी ई उपार्जन पोर्टल क्या है (MP E Uparjan Portal)

ई उपार्जन पोर्टल (E Uparjan Portal) की शुरुआत मध्य प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश के किसानों के लिए शुरु की गई है । इस पोर्टल के माध्यम से राज्य के सभी किसान भाई अपनी रबी और खरीफ फसलों को सरकार द्वारा निर्धारित न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर सरकार को बेच सकते है। सरकार द्वारा निर्धारित किये गए समर्थन मूल्य पर अपनी फसल का विक्रय करने के लिए सभी किसानो को इस पोर्टल पर पंजीकरण करवाना आवश्यक है | पंजीकरण न करवाने वाले किसानो को खरीफ के फसल के लिए किसी भी प्रकार का लाभ नहीं दिया जायेगा।

आपको बता दें, कि ई उपार्जन के अंतर्गत मध्य प्रदेश सरकार नें पूरे राज्य को कवर करने की योजना बनाई है। इसके अंतर्गत के सभी जिलों में गेहूं और धान की उपज की निगरानी (Monitoring) की गयी है| जिसमें यह पाया गया, कि मध्य प्रदेश राज्य में  गेहूं खरीद केन्द्रों की संख्या 2830 है, जिसमें 12835 किसान प्रतिदिन अपनी गेहूं की फसल का विक्रय करते है | इसी प्रकार राज्य में 794 धान खरीद केंद्र है, जिसमें लगभग 4245 किसान प्रत्येक दिन अपनी फसल का विक्रय करते है | 

PM किसान सम्मान निधि योजना

पोर्टल पर किसान ऑनलाइन पंजीयन की जानकारी  

मध्य प्रदेश सरकार नें गत वर्ष की भांति इस बार भी पंजीकरण की प्रक्रिया को ऑनलाइन ही रखी है, परन्तु पिछले वर्ष की अपेक्षा इस वर्ष पंजीकरण प्रक्रिया में कुछ संशोधन किये गये है | आपक बता दें, कि पिछले वर्ष एमपी ई उपार्जन ऑनलाइन पंजीकरण कृषि उपज मंडी के माध्यम से होता था, जिसके कारण राज्य के बहुत से किसान भाईयों को अनेक प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता था|

इस वर्ष सरकार नें सभी किसानों को घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से इस ऑनलाइन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने की सुविधा प्रदान की है | पोर्टल पर किये गये बदलाव से अब किसानों को मंडियों में पंजीकरण करवाने में होने वाली समस्याओं से निजात मिल जाएगी।

किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) योजना

ई उपार्जन पोर्टल का उद्देश्य (Objective Of E Uparjan Portal)

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा ई उपार्जन पोर्टल जारी करने का मुख्य उद्देश्य राज्य के सभी किसानों को उनकी फसल का पूर्ण रूप से समर्थन मूल्य प्रदान करना है | गत वर्ष पंजीकरण प्रक्रिया कृषि मंडी के अंतर्गत की गई थी, जिसके कारण राज्य के कई किसान अपना पंजीकरण नहीं कर पाए थे|

ऐसे में किसानों को अपनी फसल समर्थन मूल्य से कम दामों में बेचने पड़ी थी, जिसके कारण किसानों को काफी क्षति हुई थी| मध्य प्रदेश सरकार नें  किसानों की इस समस्या को समझते हुए इस बार एमपी ई उपार्जन पोर्टल के माध्यम से पंजीकरण प्रक्रिया ऑनलाइन कर दी है। इसके अंतर्गत किसानों अपनें घर बैठे ही ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते है |

स्वनिधि योजना (SVANidhi Yojana) क्या है

ई उपार्जन पोर्टल की विशेषताएं (Features Of E Uparjan Portal)

  • ई उपार्जन पोर्टल योजना का लाभ राज्य के सभी किसानो को दिया जायेगा।
  • इस पोर्टल के माध्यम से किसान भाईयों को घर बैठे पंजीकरण करने की सुविधा ।
  • एमपी ई उपार्जन पोर्टल 2021 के माध्यम से पिछले वर्ष की अपेक्षा इस वर्ष किसानों को पंजीकरण करने में किसी प्रकार की समस्या नहीं होंगी ।
  • मध्य प्रदेश राज्य के इच्छुक किसान अपने मोबाइल द्वारा अपने घर बैठे ही पंजीकरण कर सकते है।
  • राज्य के किसानों को पंजिकारना के लिए कही और जानें की आवश्यकता नही होगी, जिससे उनके समय और धन दोनों की बचत होगी|  
  • ई उपार्जन पोर्टल स्कीम का लाभ प्राप्त करने के लिए राज्य के किसान मोबाइल एप डाउनलोड कर सकते है।
  • खरीफ की फसल को सरकार द्वारा निर्धारित समर्थन मूल्य में बेंचने के लिए किसानों को 3 निर्धरित तिथियों की जानकारी देनी होगी, जब वह अपनें अनाज को बेचने के लिए केंद्र पर जायेंगे | 

उत्तर प्रदेश एक जनपद एक उत्पाद योजना

ई उपार्जन 2021 पंजीकरण हेतु आवश्यक दस्तावेज़ (Documents For E Uparjan Portal Registration)

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना (NFBS) क्या है

मध्य प्रदेश ई उपार्जन प्रक्रिया (MP E Uparjan Portal Process)

एमपी ई उपार्जन के अंतर्गत किसानों के 6 स्टेप निर्धारित किये गया हैं, जिसमें किसानों द्वारा अनाज खरीदने, बेचने के लिए प्रयुक्त होनें वाले परिवहन के साधन आदि शामिल हैं। यह 6 स्टेप इस प्रकार हैं–

  • सबसे पहले किसानों को खरीद केंद्र पर जाकर उन्हें अपना पंजीकरण करवाना होगा।
  • पंजीकरण प्रक्रिया पूरी होनें के पश्चात उन्हें एक रजिस्ट्रेशन कोड प्रदान किये जाएगा।
  • किसानों को सम्बंधित फसल की खरीद तिथि की जानकारी प्रदान करने के लिए उनके पंजीकृत मोबाइल पर एसएमएस (SMS) भेजा जाएगा।
  • किसान को एसएमएस के माध्यम से दी गई तिथियों पर उन्हें खरीद केंद्र पर जाना होगा।
  • किसान से अनाज की खरीद करनें के पश्चात उन्हें प्रमाण के रूप में एक रिसिप्ट प्रदान की जाएगी।
  • इसके पश्चात किसान के बैंक खाते में अनाज खरीद की राशि ट्रान्सफर कर दी जाएगी।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना

ई उपार्जन पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया (E Uparjan Portal Online Registration Process)

  • सबसे पहले आपको एमपी ई उपार्जन पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट http://mpeuparjan.nic.in पर जाना होगा।
  • होम पेज पर आपको रबी 2021 -2022 का विकल्प दिखाई देगा, आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा।

Tulip Portal क्या है

  • अब आपके सामने एक नया पेज ओपन होगा, जिसमें आपको किसान पंजीयन /आवेदन सर्च का विकल्प दिखाई देगा, इस विकल्प पर आपको क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामनें एक फार्म ओपन होगा, जिसमें आपसे पूछी गयी किसान का नाम ,मोबाइल नंबर ,समग्र आईडी आदि जानकारी दर्ज कर सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आपकी ई उपार्जन पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया सफलतापूर्वक पूर्ण हो जाएगी।

ई गन्ना एप्प क्या है